Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। राम की नगरी में कान्हा की गोशाला।

    ......... योगी सरकार का प्रयासः मॉडल बने यह गोशाला, रखे जा सकेंगे 15 सौ गोवंश, लगभग 90 प्रतिशत कार्य पूरा। 

    अयोध्या। नगरी राम की और गोशाला कान्हा के नाम की। राम की अयोध्या में गोवंश की पूरी देखभाल हो। यह मंशा है गोरक्षपीठाधीश्वर व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की। उनका गोप्रेम भी जगजाहिर है। गोवंश के संरक्षण व संवर्धन पर सदा उनकी नजर रहती है। यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट है। इस गोशाला को कई सुविधाओं से युक्त बनाया जा रहा है।  विश्वप्रसिद्ध गोरक्षपीठ में आज भी योगी आदित्यनाथ जी की आवाज सुन गाय दौड़ी चली आती हैं। गोरखनाथ मंदिर में रहने के दौरान उनकी शुरुआत भी पूजा-अर्चना के बाद गोसेवा से ही होती है। ऐसे में गोवंश का संरक्षण राम की ऐतिहासिक नगरी में भी हो,  इस पर गोभक्त योगी आदित्यनाथ की नजर है। अयोध्या में कान्हा गोशाला का निर्माण किया जा रहा है। लगभग 90 फीसदी से अधिक काम हो चुका है। योगी सरकार का प्रयास है कि यह गोशाला प्रदेश के लिए मॉडल बने। इसका निर्माण करीब 8.52 करोड़ रुपये से किया जा रहा है। फरवरी 2020  में इसका काम शुरू हुआ था।  

    • कान्हा गोशाला में रखे जाएंगे करीब 1500 गोवंश

    मुख्यमंत्री योगी का प्रयास है कि यह गोशाला भविष्य में आत्मनिर्भरता की नजीर बने। इसके लिए गोबर और गोमूत्र से जैविक खाद, साबुन, अगरबत्ती, दवाएं, जैविक कीटनाशक आदि बनाकर उनकी बिक्री की जाएगी। इसकी ब्रांडिंग में सरकार मदद करेगी। वर्तमान में यहां करीब 1400 सौ गाय हैं। प्रस्ताव के आधार पर कान्हा गोशाला में बेसहारा गोवंश संरक्षित किए जाने का लक्ष्य प्रस्तावित है। पशु चिकित्सालय व कांजी हाउस की भी व्यवस्था होगी। कार्यालय, कर्मचारियों के रहने की भी व्यवस्था, निगरानी के लिए वॉच टावर भी लगभग बनकर तैयार हो चुका है।

    • नगर निगम की देखरेख में हो रहा काम

    कान्हा गोशाला का निर्माण अयोध्या नगर निगम की ओर से कराया जा रहा है। अवर अभियंता विनोद पटेल ने बताया कि कान्हा गोशाला प्रोजेक्ट 8.52 करोड़ रुपये से बनाया गया है। लगभग 90 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। सितंबर अंत तक गोशाला का काम पूरा होने का लक्ष्य रखा गया है। गोशाला की क्षमता 1500 की है। वर्तमान में 1400 गोवंश हैं। कान्हा गोशाला तकरीब 108 बीघा में बनाया जा रहा है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.