Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    हापुड़। अधिशासी अभियंता से टोलप्लाज़ा पर टोल मांगना पड़ा भारी अभियंता ने टोल की कटवाई बिजली।

    हापुड़। पश्चिमाँचल विधुत वितरण निगम मेरठ एमडी अरविंद बंगारी ने रात्रि में जनपद में स्थित टोल प्लाजा की बिजली घंटो गुल रहने पर स्पष्टीकरण माँगा है। प्रकरण को गंभीरता से लेकर एमडी ने मंगलवार को हापुड सर्किल के आवास विकास दफ्तर के इंचार्ज अधीक्षण अभियंता यू के सिंह से जाँच मांगी है। मेरठ-बुंलदशहर राष्ट्रीय राजमार्ग पर ब्रजनाथपुर शुगर मिल के पास स्थित कुराना टोज प्लाजा प्रबंधक कुनाल चौधरी ने संवाददाता को बताया कि पिलखुवा के एक्सईन भूपेंद्र चौधरी ने नाराजगी के कारण सोमवार रात्रि में टोल की बिजली नियम के विरूद्व कार्रवाई कराई। जिसकी शिकायत लखनऊ तक करने पर रात्रि 10 बजे के बाद कनेक्शन जोड़ दिया गया। 

    बता दें ऊर्जा निगम के एक्सईएन भूपेंद्र सिंह सोमवार शाम अपनी प्राईवेट कार से बुलंदशहर रोड़ से होते हुए गुलावटी की तरफ जा रहे थे। कुराना टोलप्लाज़ा पर कार वीआईपी लेन में आने पर चालक ने टोल कर्मी को साहब का परिचय दिया तो उसने बगैर टोल गाड़ी निकालने से मना कर दिया। विवाद बढ़ने पर कार को वीआईपी लेन से हटाकर फ़ास्ट टैग को शीशे पर लगाकर ड्राइवर ने गाड़ी निकाली। जिस पर एक्सईन भूपेंद्र सिंह ने नाराज होकर विद्युत कर्मियों को टोल पर भेजकर ट्रांसफार्मर से टोलप्लाज़ा की बिजली सप्लाई बंद करा दी। जिससे टोल पर अंधेरा छा गया। थोड़ी देर बाद एक्सईन वापस हापुड़ की तरफ कार से टोल देकर लौट आये। टोल प्रंबधक ने बिजली बिल जमा होने के बाद भी जानबूझकर कनेक्शन काटने की शिकायत उच्चाधिकारियों से की तो लखनऊ व मेरठ के अधिकारियों ने एसई को तलब किया। तुरंत एसई ने विभागीय अफसरों को लाइन जोड़ने भेजा। जहाँ टोल कर्मियों ने उन्हें बंधक बना लिया। टोलकर्मियों ने लाईनमैन से लाइन काटने को लेकर सवाल जबाब किये। बाद में भारी हंगामे के बीच रात्रि 10ः30 बजे ट्रांसफार्मर से बिजली चालू कर कर्मचारी चुपचाप मौके से खिसक गये। टोलप्लाज़ा प्रंबधक कुणाल चौधरी ने बताया कि प्लाजा से निगम को प्रति महीने लगभग ढाई लाख रुपये का राजस्व प्रदान किया जाता है। निजी कार में सवार अधिकारी को समान्य लाइन से निकाल टोल वसूला गया था। टोल कर्मियों की कोई गलती नहीं है। टोल पर लगे सी सी टी वी कैमरों मे घटना कैद है। वहीं एक्सईन ने बताया कि उस पर लगाये गए सभी आरोप निराधार है। टोल माँगने पर चालक ने फास्टैग से कटवा दिया। टोलप्लाज़ा से बिधुत बाधित की सूचना मिली थी फाल्ट ठीक करने गये कर्मियों को टोल कर्मियो ने बंधक बनाया लिया था। केबल फाल्ट ठीक करके टोलप्लाज़ा की आपूर्ति चालू करा दी गई है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.