Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मऊ। सुभासपा मे फूट, ओमप्रकाश राजभर को लगा झटका।

    • राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महेंद्र राजभर सहित 30 पदाधिकारी छोड़े सुभासपा
    • मुख्तार के कहने पर पार्टी चल रही मनमर्जी, बनेगी नई पार्टी

    मऊ। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) में ओमप्रकाश राजभर के खिलाफ बड़ी बगावत होने की बात बताई गई है। उनकी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महेन्द्र राजभर ने सोमवार को सैकडो कार्यकर्ताओ के साथ पार्टी की सदस्यता छोड़ दी। उन्होंने ओमप्रकाश राजभर पार्टी के मिशन से भटक जाने का आरोप लगाया है।


    जनपद मऊ के एक निजी प्लाजा में पत्रकारों से बातचीत में महेन्द्र राजभर ने आरोप लगाया कि सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर बस धन बटोरने के चक्कर में लगे रहते हैं। कहा कि 20 साल पहले 27 अक्टूबर 2002 को सबकी मौजूदगी में पार्टी का गठन हुआ था। उस समय पार्टी का मिशन गरीब, दलित, मजदूर और वंचित समाज का उत्थान रखा गया था, जबकि उसके बाद से कार्यकर्ताओं के खून-पसीने से बनी पार्टी का इस्तेमाल उन्होंने केवल धन बटोरने के लिए किया। उन्होने यह भी कहा की वे अपने बड़े भाई मुख्तार अंसारी के कहने पर ही काम करते है। उनकी इस सियासत से आहत होकर उन्होने उनसे अलग होने का निर्णय लिया है। प्रदेश महासचिव अर्जुन चौहान, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ.अवधेश राजभर ने बताया कि  उनके साथ 30 पदाधिकारियो ने सुभासपा छोड़ दी है। इस बात को लेकर सियासी दलों में सरगर्मी बढ़ गई है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.