Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। जनपद में वकीलों के साथ मारपीट करने वाले कालिका हवेली के पांच अभियुक्त गिरफ्तार।

    ......... अधिवक्ताओं की हड़ताल जारी , कालिका हवेली  की जांच करा  ध्वस्त की  कार्यवाही करने की मांग

    देव  बक्श वर्मा\अयोध्या। जनपद में  अपराधियों के हौसले किस तरह से बुलंद है  इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है  की कालिका हवेली होटल  के मालिक मैनेजर व कर्मचारी 5 अधिवक्ताओं को मार मारकर लहूलुहान कर दिया। जिसका मुकदमा थाने में दर्ज हुआ किंतु पुलिस कार्यवाही से कतरा रही थी। जब अधिवक्ताओं ने  हड़ताल करके रोड जाम किया, धरना प्रदर्शन किया, तब जाकर पांच अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई। अब अधिवक्ता भी आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गए हैं और  बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के  पूर्व अध्यक्ष,  व सदस्य अयोध्या पहुंचकर  अधिवक्ताओं का साथ देने की बात कही, वहीं पर गोसाईगंज  के विधायक अभय सिंह ने  अधिवक्ताओं के साथ कंधे से कंधा मिलाकर साथ देने की बात कही और विधानसभा में प्रश्न उठाने की बात कही। 


    कैन्ट थाने में मु0अ0सं0 268/2022 धारा 147,149,307,308,392,504,506,427 भा0द0वि0 मे अधिवक्ताओं की तरफ से मुकदमा दर्ज कराया गया जिसमें वाछिंत 05 नफर अभियुक्तों को थाना कैण्ट पुलिस ने किया गिरफ्तार कर जेल के सलाखों में डाल दिया।

     वांछित अभियुक्तगण 1.राजेन्द्र प्रसाद दुबे पुत्र रामबहादुर निवासी रैछ थाना मवई जनपद अयोध्या 2.चुन्नू सिंह उर्फ विजय प्रताप सिंह पुत्र उदयभान सिंह निवासी तिलसवा थाना मुहम्मदाबाद गोहना जनपद मऊ तथा प्रकाश मे आये अभियुक्तगण 03.सर्वेश कश्यप पुत्र निर्मल कश्यप निवासी सर्रापुरवा थाना रानीपुर जनपद बहराइच 04.दीपक कश्यप पुत्र लालू कश्यप निवासी सर्रापुरवा थाना रानीपुर जनपद बहराइच 05.विनय मिश्रा पुत्र रमापति मिश्रा  निवासी धूरीपुर थाना मानपुर जनपद सीतापुर को   आर0टी0ओ0 आफिस के सामने राष्ट्रीय राजमार्ग से  थाना कैण्ट पुलिस ने गिरफ्तार करने की बात कही है ।

    अधिवक्ताओं का कहना है कि कालिका हवेली होटल अवैध रूप से बना है हाईवे की जमीन का उपयोग करते हैं और उसकी जांच करा कर यदि नक्शा नहीं पास हुआ है तो   ध्वस्त  किया जाए यदि नक्शा पास है तो मानक के अनुरूप बना है या नहीं यह मानक के अनुरूप नहीं है है तो ध्वस्त किया जाए तथा हाईवे की जमीन का दुरुपयोग कर रहे हैं इसके लिए उनके खिलाफ विधिक कार्यवाही किया जाए और रोक लगाया जाए तथा शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी कराया जाए। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.