Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। दूध दही पर जीएसटी के विरुद्ध समाजवादियों का सद्बुद्धि सत्याग्रह।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। मोदी सरकार द्वारा दूध,दही, आटा,चीनी,चावल आदि पर जीएसटी लगाने के विरुद्ध आज सपा से जुड़े व्यापारियों ने भाजपा सरकार के कानों तक आवाज पहुंचाने के लिए काली जन्माष्टमी मनाई और भगवान कृष्ण से भाजपा की सद्बुद्धि के लिए प्रार्थना की।नए शुक्लागंज पुल के पास सपा नेता व पूर्व विधानसभा प्रत्याशी अभिमन्यु गुप्ता व प्रांतीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष युवा शुभ गुप्ता के नेतृत्व में आयोजित सत्याग्रह में सभी ने हाथों में दूध,दही, आटा,चावल व पोस्टर लेकर जोरदार नारेबाजी करते हुए विरोध सत्याग्रह किया।सबने कहा की शिव भक्त और कृष्ण भक्त परेशान हो गए। आक्रोशित पदाधिकारियों ने कहा की पता नहीं अब कैसे मनाएं जन्माष्टमी कैसे घर में खुशियां मनाएं। 

    वरिष्ठ सपा नेता अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की भाजपा की गलत नीतियों के कारण त्यौहार मनाने तक के लाले पड़ गए हैं।दूध,दही,चावल, आटा सब पर जीएसटी बढ़ाकर या कुछ पर जीएसटी थोपकर भाजपा की सरकार ने इन सब आवश्यक खाद्य वस्तुओं की कीमतों में आग लगा दी है। पूरे श्रावण मास भक्त भोलेनाथ पर महंगे दूध के कारण दूध अर्पित करने चिंतित दिखे।और अब जन्माष्टमी में चरणामित्र,पंजीरी,खीर,मिठाई आदि बनाने में लोग संकटों का सामना कर रहे हैं क्योंकि जीएसटी बढ़ने की वजह से सब महंगा हो गया है।भाजपा राज में आज व्यापारी,किसान,मजदूर,नौकरीपेशा,घर गृहस्थी वाला हर कोई परेशान है और त्राहि त्राहि कर रहा है।प्रांतीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष युवा शुभ गुप्ता ने कहा की व्यापारी विरोधी,किसान विरोधी,युवा विरोधी,मजदूर विरोधी भाजपा की सरकार ने जब से अनाज व खाद्य सामग्री पर जीएसटी लगाने व बढ़ाने का निर्णय लिया है तब से पूरे देश में त्राहि त्राहि है और हाय तौबा मची है।त्यौहार में हर किसी का हाल बेहाल है।महंगाई की वजह से सब परेशान हो गए।आम जन खरीदारी नहीं कर पा रहे और व्यापारी बिक्री के लिए परेशान है।ऐसी भयावह स्तिथि पहली बार आई है।शुभ गुप्ता ने कहा की आटा, दाल, चावल, सब्जी, तेल, दूध, दही पर भी जीएसटी लगा कर  लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है।  पराग, अमल, मदर डेयरी समेत सभी दूध कम्पनियों ने दूध के दामों में वृद्धि कर दी है।सबने सत्याग्रह के साथ नारेबाजी करते हुए दूध,दही,अनाज,खाद्य सामग्री पर जीएसटी वापस लेने की मांग रखी।अभिमन्यु गुप्ता,शुभ गुप्ता,जय गुप्ता,विपिन पाल,अनिल सिंह आदि थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.