Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    महमूदाबाद/सीतापुर। मुख्य सचिव चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास ने किया चीनी मिल का निरीक्षण।

    ...... सवालों का सही जवाब न दे पाने पर मुख्य सचिव ने मिल प्रबध्ंक को लगाई फटकार

    ......... गन्ने की अच्छी फसल देखकर किसान को नगद पुरुस्कार देकर किया सम्मानित

    महमूदाबाद/सीतापुर। अगले पेराईसत्र को लेकर दि किसान सहकारी चीनीमिल में चल रहे मशीनों की मरम्मत कार्य का निरीक्षण करने रविवार की दोपहर अपर सचिव चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास व आबकारी विभाग संजय आर भूसरेड्डी चीनी मिल पहुंचे। यहां व्याप्त अव्यवस्थाओं पर सही जवाब न दे पाने पर अपर मुख्य सचिव ने चीनीमिल के जीएम को कड़ी फटकार लगाई। पहला विकास खंड के समशाबाद गांव के प्राथमिक विद्यालय पोहारीपुरवा में आयोजित चौपाल में अपर सचिव ने किसानांे से ज्यादा से ज्यादा गन्ने की फसल की बुआई करने की अपील की। किसानों ने अपर सचिव से समय पर गन्ने की तौलाई गई फसल का भुगतान न होने पर रकबा कम होने का कारण भी बताया। रविवार की दोपहर अपर सचिव चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास व आबकारी विभाग संजय आर भूसरेड्डी दि किसान सहकारी चीनीमिल महमूदाबाद पहुंचे। अपर सचिव सबसे पहले चीनीमिल परिसर में ही बने गेस्ट हाउस पहुंचे जहां उन्हें गार्ड आफ आनर दिया गया। इसके बाद चीनीमिल के अंदर मशीनों की चल रही मरम्मत का कार्य देखा। उन्होंने जीएम से श्रमिक कर्मचारियों से समुचित सुरक्षा उपकरण उपलब्ध करवाए जाने के साथ पूरे परिसर में सीसीटीवी कमरे लगवाने जाने की बात कही। इसके बाद अपर सचिव चीनी गोदाम पहुंचे जहां गिरी दीवार का निरीक्षण कर जल्द से जल्द इसका दुरुस्तीकरण गुणवत्ता पूर्ण ढ़ग से करवाए जाने के निर्देश जीएम को दिए। फार्म में गन्ने की फसल अच्छी देखकर फार्म इंचार्ज अवधेश त्रिपाठी को अपर मुख्य सचिव की आरे से 11 सौ रुपए का नकद पुरस्कार प्रबंध निदेशक रमाकांत पांडेय द्वारा दिया गया। गेस्ट हाउस पहुंचकर अपर मुख्य सचिव ने विभागीय अधिकारियों ने समीक्षा बैठक की। इस मौके पर जिला गन्ना अधिकारी संजय सिसौदिया, जिला आबकारी अधिकारी केपी यादव, प्रधान प्रबंधक आरबी राम, आबकारी इंस्पेक्टर आरती यादव, शैलेंद्र नाहर सहित कई अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

    चीनी मिल का निरीक्षण करते मुख्य सचिव। 

    • निरीक्षण के बाद भी लहराता रहा उल्टा तिरंगा

    अपर मुख्य सचिव के निरीेक्षण के दौरान भी चीनी मिल के मुख्य गेट पर लगा उल्टा तिरंगा लहराता रहा। लोगों की मानें तो 15 अगस्त को ही मुख्य गेट पर तिरंगा झंडा लगाया गया था जो अभी तक लगा है। अपर मुख्य सचिव के निरीक्षण की सारी तैयारियां तो पूर्ण हो गईं किंतु उल्टा फहरा रहे राष्ट्रीय ध्वज पर किसी की नजर नहीं पड़ी। मिल प्रशासन की राष्ट्रीय ध्वज के प्रति लापरवाह कार्यशैली की चारों ओर निंदा हो रही है।

    चीनी मिल के गेट पर फहराता उल्टा तिरंगा। 

    • जब मिल प्रबधंक के जवाब पर भड़के मुख्य सचिव

    मिल परिसर के निरीक्षण के उपरांत अपर मुख्य सचिव संजय आर भूसरेड्डी मिल गोदाम की ओर बढ़े। उन्होने पूंछा कि बीते दिनों मिल गोदाम की दीवार कैसे गिरी थी। जीएम आरबी राम ने बताया कि करीब 15 मीटर दीवार ट्रेन की धमक से गिर गई थी। जिस पर उन्होने जीएम से पूंछा कि इस तरह तो रेलवे स्टेशन भी गिर जाना चाहिए था। उन्होने फिर पूंछा कि तुमने किस विद्यालय से इंजीनियरिंग की हैं। किस मास्टर ने तुमको यह कहानी पढ़ाई, जिस पर मिल के अधिकारी चुप्पी साध गये। मिल गोदाम के अंदर दाखिल होकर उन्होने गिरी दीवार देखनी चाहिए किन्तु मिल प्रशासन द्वारा गोदाम के अंदर से दीवार तक पहुॅंच के रास्ते बंद कर दिये गये थे, जिसके चलते वह टूटी दीवार नहीं देख सके। उन्होने जीएम को दीवार की मरम्मत कराने के निर्देश दिये। गन्ना विकास लिमिटेड के प्रबंध निदेशक रमाकांत पाण्डेय ने चीनी का उठान शीघ्र कराने के निर्देश दिये।

    • स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को किया सम्बोधित

    गन्ना बुआई टेंच विधि से करने से गन्ने का उत्पादन अधिक होता है। कई जिलों में  टेंच विधि से बुआई होती है और वहां के किसान लाभ प्राप्त कर रहे हैं। यह बात अपर मुख्य सचिव संजय आर भूसरेड्डी ने प्राथमिक विद्यालय पोहारीपुरवा में गन्ना विकास परिषद महमूदाबाद द्वारा कल्याणी महिला स्वयं सहायता समूह की गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होने महिला स्वयं सहायता समूह की आय बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा कि गन्ने की पौध अधिक से अधिक तैयार करें। इसके साथ ही चौपाल में मौजूद किसानों सेे अपर मुख्य सचिव ने ज्यादा से ज्यादा रकबे में गन्ने की फसल बुआई उन्नति किस्म के बीज की टेंच विधि से करने की अपील की।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.