Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। किसान और जवान अपने को ठगा महसूस कर रहा है:रामाशीष राय

    ....... दिसम्बर तक 5 लाख सदस्यता पूर्ण करने का लक्ष्य :रालोद

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। राष्ट्रीय लोकदल उत्तर प्रदेश के प्रान्तीय अध्यक्ष रामाशीष राय पूर्व एम.एल.सी. उत्तर प्रदेश आज राष्ट्रीय लोकदल के मण्डलीय सदस्यता / संगठन समीक्षा बैठक की। नगर अध्यक्ष मोहम्मद उस्मान के नेतृत्व में उक्त समीक्षा बैठक राजा सेठ होटल घंटाघर में हुई। सभी जिला के प्रतिनिधियों ने अपनी-अपनी सदस्यता एवं संगठन की जानकारी दी। तदुपरान्त रामाशीष राय को पुष्ट मालाओं से लाद दिया गया और सुरेश गुप्ता द्वारा एक प्रतीक चिन्ह भेंट किया गया। रामाशीष राय अध्यक्ष ने अपने सम्बोधन में कहा कि किसान और जवान अपने को ठगा महसूस कर रहा है। केन्द्र और प्रदेश सरकार ने लोकसभा और विधानसभ चुनावों में किसानों के लिए कृषि उत्पादन पर दोगुना लाभकारी मूल्य और जवानों के प्रतिवर्ष दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था परन्तु दोनों मुददे सरकार के हवा हवाई निकले।  

    भाजपा के संबंध में पुछे जाने पर प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा को एक मार्केटिंग कम्पनी बताया। भाजपा में लोकतंत्र नहीं है। राष्ट्रीय लोकदल ही किसान, मजदूर, अल्पसंख्यक, बुनकर की बात करती है भाईचारा के बिना देश विकास की ओर नहीं चल सकता। प्रदेश सरकार कानून व्यवस्था के नाम पर विफल है। महंगाई चरम सीमा पर हो रही है। किसानों की लागत दुगनी हो गयी है। उनकी उत्पादों का मूल्य दुगना नहीं हो पाया। एक करोड़ पद खाली है पर सरकार नौजवानों को झुनझुना पकड़ा रही है। रालोद सड़क से संसद तक जनता की समस्याओं के लिए संघर्ष करेगा। राष्ट्रीय लोकदल देश एवं प्रदेश में अपने संगठन को मजबूत करने के लिए बूथ स्तर पर सदस्यता अभियान चला रहा है। दिसम्बर तक 5 लाख सदस्यता पूर्ण करने का लक्ष्य है। केन्द्र और प्रदेश सरकार ने गन्ना का भुगतान और छुटटा जानवरों के समाधान के लिए स्वयं प्रधानमंत्री 10 मार्च को वायदा किया था जो दोनों ज्वलंत मुददे ठण्डे बस्ते में है ।

    कार्यक्रम की अध्यक्षता सुरेश गुप्ता व संचालन मो० उस्मान ने किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सर्वश्री विमलेश पाठक एड. नरेन्द्र सिंह यादव, बसन्त सिंह, राकेश सिंह, विनोद यादव एड., चन्द्रपाल यादव डॉ0 बी.एल. लाल, अरविन्द सिंह, डॉ0 सुहेल चौधरी, साकिर अली, दीपक शर्मा, सुहेल एड.. मो० इकबाल, दीपक शर्मा, नसीम बउवा, सुफियान गौस, वेदप्रकाश यादव, सोनू शाह, अजमेरी केरेशी आदि सैकड़ों लोग प्रमुख थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.