Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या।जनपद में तहसील रुदौली व तहसील बीकापुर में ग्राम न्यायालय का संचालन शुरू।

    .......... जिला मुख्यालय पर ग्राम न्यायालय के विरोध में अधिवक्ताओं का कार्य बहिष्कार शुरू

    देव बक्स वर्मा 

    अयोध्या। जनपद में वादकार्यों को सुख सुविधा देने के लिए ग्राम न्यायालय का गठन किया गया! ग्राम न्यायालय रूदौली एवं ग्राम न्यायालय बीकापुर में न्यायिक अधिकारीगण की नियुक्ति के फलस्वरूप उक्त न्यायालयों के सुचारी कार्य सम्पादन के उद्देश्य से तहसील बीकापुर में 1 अगस्त को व  2 अगस्त मंगलवार को न्यायालय रुदौली अयोध्या का उद्घाटन  जनपद न्यायाधीश,  संजीव फौजदार के  द्वारा किया गया। ग्राम न्यायालय तहसील बीकापुर तहसील रुदौली में संचालन शुरू होते ही सिविल कोर्ट फैजाबाद जनपद अयोध्या के अधिवक्ताओं ने जिला मुख्यालय पर कार्य बहिष्कार कर अपना विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया जिससे न्यायिक कार्य बाधित हो रहा है! अधिवक्ताओं की मांग है कि ayodhya जनपद प्रदेश का छोटा जिला है और ज्यादातर अधिवक्ता जिला मुख्यालय पर रहते हैं! ऐसे में तहसीलों पर सिविल कोर्ट की अदालतों के गठन के साथ कठिनाई पैदा हो जाएगी किंतु तहसील की अधिवक्ता ग्राम न्यायालय के गठन से काफी खुश दिखाई दे रहे हैं। 

    ग्राम न्यायालय रुदौली अयोध्या के पीठासीन अधिकारी  पंकज कुमार को  जनपद न्यायाधीश  फैजाबाद द्वारा कार्य संपादन के लिए अधिकृत किया गया। उक्त कार्यक्रम में जनपद न्यायाधीश  संजीव फौजदार, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट  कुलदीप सिंह, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण फैजाबाद रिचा वर्मा, पीठासीन अधिकारी ग्राम न्यायालय रुदौली  पंकज कुमार, उपजिलाधिकारी रुदौली स्वप्निल यादव एवं रुदौली बार के अध्यक्ष व अधिकवक्तागण भी उपस्थित रहे। ग्राम न्यायालय रुदौली के क्षेत्राधिकार के अन्तर्गत थाना- रुदौली, थाना मवई, थाना-पटरंगा के दो वर्ष तक की सजा के पुलिस चालानी वादों तथा दो वर्ष तक की सजा के मामलों में तलबी आदेश पारित हो चुके परिवादों की सुनवाई का क्षेत्राधिकार प्रदान किया गया है। सम्बन्धित थानों के दो वर्ष तक की सजा के मामलों में प्रेषित आरोप पत्र/अंतिम रिपोर्ट सम्बन्धित ग्राम न्यायालय में ही दाखिल किये जायेगें।

    दो वर्ष तक की सजा संबंधित परिवाद मामलें उपरोक्तानुसार सम्बन्धित ग्राम न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किये जायेगें तथा यदि उनमें अभियुक्त को दो वर्ष की सजा के मामलें में विचारण हेतु तलब किया जायेगा तो ऐसे प्रकरण सम्बन्धित ग्राम न्यायालय में स्थानान्तरित कर दिये जायेगें।

    ग्राम न्यायालय के गठन से तहसील के अधिवक्ताओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है और क्षेत्र की जनता भी खुश लग रही है रुदौली के लोगों का कहना है कि अब छोटे मामलों में जिला मुख्यालय नहीं जाना पड़ेगा वहीं पर सिविल कोर्ट फैजाबाद के अधिवक्ता ग्राम न्यायालय को जिला मुख्यालय पर लाने के लिए कार्य बहिष्कार कर रहे हैं। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.