Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीतापुर। खैराबाद के कर्बला मैदान में चहुँ ओर लगे हैं गंदगी के भंडार, पालिका हेल्थ इंस्पेक्टर के साथ नदीम हसन ने किया निरीक्षण।

    शरद कपूर\सीतापुर। खैराबाद अवध के सामाजिक कार्यकर्ता व पूर्व पूर्वोत्तर रेलवे सलाहकार सदस्य नदीम हसन खान अफरीदी और नगरपालिका खैराबाद अवध के हेल्थ इंस्पेक्टर मनोज राणा ने एक साथ सामाजिक कार्यकर्ता के आह्वान पर गंदगी से पटे ऐतिहासिक मेला मैदान जिसे लोग 52 डंडे के ताजिया स्थल इस्तेमा ग्राउंड जय गुरुदेव के प्रवचन स्थल और मेला मैदान के नाम से जाने जाने वाले मेला मैदान का पूर्ण रूप से निरीक्षण किया जोकि पिछले 2 सालों से नगर पालिका परिषद खैराबाद की तरफ से 52 मुहल्लों का कूड़ा डालकर 40 से 50 बीघा समतल जमीन को कूड़े के ढेर से ऊंचा कर दिया जिसमें समस्या यह खड़ी हो गई की अब मेला स्थल पर झूले कहां लगेंगे जो रास्ता बनाया जाता था वहां झूले और दुकाने लगना शुरू हो गए प्रशासन के सामने सबसे बड़ी दिक्कत यह हो जाएगी अब रास्ते कहां से निकालेंगे पिछले 2 साल से लगातार मना करने के बावजूद ऐतिहासिक मेला मैदान इसमें एक तरफ ईदगाह दूसरी तरफ जिले की सबसे बड़ी कर्बला तीसरी तरफ मस्जिद चौथी तरफ मंदिर इसी मैदान के एक हिस्से में चर्च भी है। 

    इस ऐतिहासिक मेला मैदान मैं हिंदू मुस्लिम व अन्य समुदाय के कब्रिस्तान शमशान इत्यादि अंतिम पड़ाव है जिसमें जब लोग मिट्टी देने आते हैं तो बदबू से नाक बंद कर लेते हैं पुणे से आकर्षित होकर सैकड़ों की तादाद में सूअर इसमें घूमा करते हैं वही सौ से डेढ़ सौ कुत्तों का झुंड इस में विचरण करने लगा है जिसने कर्बला पूर्वे और मुलायम पुर आसपास गांव के लोगों की दर्जनों बकरियों को फाड़ कर मार डाला यह बयान गांव के लोगों ने दिया है ऐसे में अभी शुरुआत है कुत्तों की आतंकी अगर इस पर ध्यान नहीं दिया गया तो कुछ दिनों बाद यही कुत्ते 2017 की तरह लोगों के बच्चों को मारना शुरू कर देंगे 2017 में अधिक से अधिक कुत्ते ने 35 से 40 बच्चे मार दिए थे जिसमें हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री योगी जी को भी खैराबाद अवध से 1 किलोमीटर दूर बसे गुरु पलिया आना पड़ा था यह आतंक पुणे स्टार्ट हो गया है। 

    यदि इस कूड़े का निस्तारण ना किया गया तो लोगों के सामने समस्या पैदा हो सकती है वही इसी मैदान में 5 दिन बाद मोहर्रम के ताजिए और उसके दूसरे दिन 52 घंटे का ताजिया जिसमें 6 से 7 लाख लोग इस मैदान की तरफ आगमन करेंगे आएंगे ऐसे में कहां पर मेला लगेगा कहां पर दुकान है और कहां पर 20 रास्ता दिया जाएगा इस समस्या के लिए नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी को कई माह से कूड़ा डालने के लिए मना किया जा रहा है जिसका निरीक्षण करते हुए साफ तौर पर हेल्थ इंस्पेक्टर को देखा जा रहा है और आश्वासन भी दिया गया था जब कूड़ा इसमें नहीं पड़ेगा लेकिन कूड़ा अभी भी बदस्तूर जारी है समस्या बड़ी है और विकराल है कैसे 5 दिनों में इस समस्या का हल होगा और यह हजारों ट्राली कूड़ा कहां ले जाया जाएगा।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.