Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    रायबरेली। अवध क्षेत्र में हजारों नायक ऐसे थे जो गुमनाम ही रहे हैं: योगी आदित्यनाथ

    ........ मेरा सौभाग्य है कि इस कार्यक्रम में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने का मौका मिला

    रायबरेली। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को राना बेनी माधव सिंह की 218वी जयंती पर आयोजित भाव समर्पण कार्यक्रम में भाग लिया। कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए  उन्होंने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि इस कार्यक्रम में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने का मौका मिला। राना बेनी माधव सिंह जी स्वतंत्रता संग्राम के नायक रहे और उन्होंने कभी भी अंग्रेजों के आगे घुटने नहीं टेके। ऐसे महानायक को मेरा नमन है। सीएम ने कारगिल युद्ध के नायक और परमवीर चक्र से सम्मानित सूबेदार मेजर संजय कुमार को शौर्य चक्र से सम्मानित किया उन्होंने कहा कि युद्ध काल में सर्वोच्च शौर्य और पराक्रम दिखाने वाले भारतीय सेना के जवानों को यह सम्मान मिलता है और उसमें कम ही लोग होते हैं जो अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हैं।

    सीएम योगी ने कहा कि राणा बेनी माधव सिंह जी हमें आजादी का अहसास 90 साल पहले ही करा दिया था। आजादी के महानायक को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। हमें आजादी मिली यह सच है कि लोगों के शौर्य और पराक्रम से हमें आजादी मिली और आजादी के 75 सालों में हमारे देश के सैनिकों ने इस आजादी को अक्षुण्ण बनाये रखा है। अगर दुनिया में अपने आप को बनाए रखना तो हमें दुनिया के साथ चलना होगा। लेकिन ये केवल सरकार का काम नहीं है समाज का हर एक व्यक्ति जो सब अपनी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करेगा तभी एक मजबूत देश का निर्माण हो सकेगा। सरकार केवल नेतृत्व दे सकती है लेकिन आप लोगों को आगे आना होगा। हमें ऐसे भारत का निर्माण करना जो विश्व का नेतृत्व कर सके। शांति और सौहार्द का संदेश देते हुए आगे बढ़ना है। शांति और सौहार्द बिना शौर्य और पराक्रम के नहीं आता है ये बात हर भारतीय को समझना होगा।

    सीएम ने कहा कि अवध क्षेत्र में हजारों नायक ऐसे थे जो गुमनाम ही रहे हैं। उनके नाम इतिहास की पुस्तकों से गायब हो गए। हमारी शिक्षण संस्थाएं यह सोच है कि आजादी के महानायकओं को दूर करके उन्हें लिपिबद्ध करें केवल सरकार के भरोसे ना रहे हैं कि सरकार उन्हें निर्देश देगी तब वह यह काम करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत अनवरत यात्रा में आगे बढ़ रहा है। अगर हर व्यक्ति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करने लगे तो इसमें कोई बड़ी बात नहीं होगी।

    और जब डीएम मैंम ने लगाई दौड़

    रायबरेली। भाव समर्पण कार्यक्रम में जिले पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काफिले के पीछे डीएम माला श्रीवास्तव ने दौड़ लगा दी। राणा चौक पर राणा बेनी माधव की मूर्ति पर पुष्पांजलि के बाद सीएम का काफिला फिरोज गांधी सभागार के लिए निकला लेकिन इस दौरान डीएम पीछे हो गई तभी जिलाधिकारी ने दौड़ लगा दी और दौड़कर अपने वाहन से फिरोज गांधी सभागार पहुंची। उल्लेखनीय है इससे पहले बहराइच में तैनाती के दौरान सीएम के कार्यक्रम के दौरान डीएम माला श्रीवास्तव ने दौड़ लगाई थी और उसका वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हुआ था।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.