Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। खुशखबरी: गुरुकुल के छात्रों को सीबीएसई बोर्ड के समकक्ष मिलेगी मान्यता:-डॉ दिलीप सिंह

    .......... भारत सरकार के मानव संसाधन मंत्रालय ने भारतीय शिक्षा बोर्ड के गठन को दी मंजूरी

    अयोध्या। भारतीय शिक्षण मंडल एवं संतों के प्रयास से भारत सरकार के मानव संसाधन मंत्रालय ने भारतीय शिक्षा बोर्ड के गठन की मंजूरी दे दी है। बोर्ड के 7 सदस्यीय समिति में भारतीय शिक्षण मंडल के राष्ट्रीय संगठन मंत्री मुकुल कानितकर,राष्ट्रीय संत मोरारी बापू ,यग गुरु बाबा रामदेव,गोविंद देव गिरी आदि शामिल हैं। यह जानकारी राष्ट्रीय सह प्रभारी डा. दिलीप सिंह ने दी।

    डॉ सिंह ने बताया कि समिति में योगाचार्य बालकृष्ण ,महावीर अग्रवाल,स्वामी मुक्ता नंद ,पद्म श्री डा. पूनम सूरी,काशी हिंदू विश्वविद्यालय के संस्थापक रहे पंडित मदन मोहन मालवीय के भतीजे गिरिधर मालवीय,अवकाश प्राप्त आईएएस डा. नागेन्द्र प्रसाद सिंह शामिल भी है। इसके अतिरिक्त 20 सदस्यीय एग्जीक्यूटिव बोर्ड बनाया गया है। यह जानकारी देते हुए राष्ट्रीय सह प्रभारी डा. दिलीप सिंह ने बताया की देश भर में चल रहे करीब 11 हजार से अधिक गुरुकुल प्रबंध समिति के सामने मान्यता का संकट था।

    2018 में भारतीय शिक्षण मंडल ने उज्जैन में विराट गुरुकुल सम्मेलन आयोजित किया था। इसमें लगभग 6 देशों के गुरुकुल प्रतिनिधि सहित भारत के अनेक विधा से चलने वाले गुरुकुल ने भाग लिया था। सम्मेलन में पहुंचे तत्कालीन मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के समक्ष शिक्षण मंडल ने बोर्ड के गठन का प्रस्ताव दिया था। इसकी घोषणा 5 अगस्त 2022 को भारत सरकार द्वारा की गई।

    बोर्ड से गुरुकुल शिक्षा पद्धति में अध्ययन रत विद्यार्थियों को हाई स्कूल व इंटरमीडिएट की सीबीएसई बोर्ड के समकक्ष डिग्री को मान्यता मिलेगी। बोर्ड के गठन पर अयोध्या के अनेक गुरुकुल में जश्न का माहौल है। श्री गुरु वशिष्ठ गुरुकुल के संस्थापक संरक्षक और श्रीरामवल्लभाकुंज के प्रमुख स्वामी राजकुमार दास , हनुमत सदन के महंत और शिक्षा विद महंत मिथलेश नंदिनी शरण,जगदगुरु रामदिनेशाचार्य,गुरुकुल के कोष प्रमुख प्रो. आरके सिंह, प्रधानाचार्य दुख हरण नाथ मिश्र ने इस पहल का स्वागत करते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया। गुरुकुल के बच्चों को मिष्ठान खिला के खुशी व्यक्त की।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.