Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    श्रावस्ती। राप्ती ने किया खतरे के निशान को पार, लोगो को सताने लगा बाढ़ का खतरा।

    ........ राप्ती के बढ़ रहे जलस्तर से तटवर्ती इलाकों के निवासियों में जमा हुआ है दहशत-

    श्रावस्ती। नेपाल के पहाड़ों पर हो रही झमाझम बारिश के चलते राप्ती नदी ने खतरे का निशान पार कर लिया है। खतरे के निशान से 30 सेंटीमीटर तक ऊपर पहुंच गया है। इससे तटवर्ती गांवों में लोगो को बाढ़ का डर सताने लगा है।

    जानकारी के मुताबिक पड़ोसी राष्ट्र नेपाल के ऊंचाई वाले पहाड़ों पर पिछले कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है। इससे राप्ती नदी का जलस्तर सोमवार सुबह से बढ़ने लगा। राप्ती का जलस्तर दोपहर में खतरे का निशान 127.70 को पार कर लिया धीरे-धीरे जलस्तर बढ़ता हुआ दोपहर 3 बजे तक 128.00 पहुंच गया। जो कि खतरे के निशान से 30 सेंटीमीटर ऊपर बहने लगी जिससे तटवर्ती गांवो के करीब नदी की लहरें पहुँचने लगी और ग्रामीणों में बाढ़ का डर सताने लगा प्रशासन को इसकी भनक लगते ही सभी बाढ़ चौकियों को एलर्ट कर दिया गया है। आज जैसे ही पड़ोसी देश नेपाल से पानी छोड़े जाने के चलते जलस्तर में वृद्धि शुरू हुई,कि सभी बाढ़ चौकी व राहत कर्मियों को एलर्ट कर दिया गया और तहसील के जिम्मेदार अधिकारी हरपल पर नजर बनाए हुए थे।  हालांकि शाम 05 बजे नदी का जलस्तर स्थिर हो गया समाचार भेजे जाने तक शाम छ: बजे जलस्तर मे करीब 10 सेंटीमीटर कमी दर्ज की गयी लेकिन अभी भी खतरे के निशान से 20 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है।बाढ़ की आशंका के चलते तटवर्ती गांवों में दहशत फैल गई है। लेकिन अभी तक किसी गांव में पानी घुसने की खबर नहीं मिली है।

    जिलाधिकारी नेहा प्रकाश ने बताया है कि जलस्तर पर निगरानी रखी जा रही है। सभी बाढ़ चौकी प्रभारियों एवं चौकी पर तैनात अधिकारियों कर्मचारियों को सक्रिय रहने का निर्देश दिया गया है। जो कन्ट्रोल रूम स्थापित किए गए हैं। यह कन्ट्रोल रूम अनवरत क्रियाशील रहेगा। बाढ़ संबंधी सूचना इन नंबरों 8429321551 और 7395045570 पर दी जा सकती है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.