Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। गुप्तारघाट क्षेत्र में तेंदुए की दहशत से सैलानियों के लिए बढा खतरा।

    ......... कनौसा कान्वेंट स्कूल के पास रोड क्रॉस करते देखे जाने की जनचर्चा

    अयोध्या। अयोध्या के कैंट एरिया गुप्तारघाट में तेंदुए की दहशत लगातार बढ़ती जा रही है। इसके कारण यहां आने वाले पर्यटकों पर भी खतरा मंडरा रहा है। अयोध्या का प्रसिद्ध पौराणिक स्थल गुप्तार घाट है जहां पर प्रतिदिन बड़ी संख्या में पर्यटक घूमने पहुंचते हैं। लेकिन इसी क्षेत्र के आसपास में 2 तेंदुए कई बार घूमते दिखाई दिए है। जिसको लेकर वन विभाग ने पकड़ने के लिए कई स्थानों पिंजड़े लगाए हैं। लेकिन उनका यह प्रयास खबर लिखे जाने तक नाकाम रहा है।

    अयोध्या कैंट थाना क्षेत्र में पिछले कई दिनों से तेंदुए के देखे जाने को लेकर हड़कंप मचा हुआ था लेकिन वन विभाग ने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं कर सका। लेकिन लगातार बढ़ रहे दहशत को देखते हुए विभाग के द्वारा पिजड़ा लगाए जाने के साथ ही कई स्थानों पर कैमरे भी लगाए गए और देर रात्रि छावनी परिषद क्षेत्र में तेंदुआ कैमरे में कैद हुआ। तो वन विभाग ने लोगो को सुरक्षित रखने के लिए पेट्रिलिंग बढ़ा दिया और आसपास के क्षेत्र में रहने वालों को घरों में सुरक्षित रहने की अपील की है। 

    मिली जानकारी के मुताबिक वर्तमान में उसकी मौजूदगी मिरनघाट क्षेत्र में बताई जा रही है। लेकिन कल देर शाम नगर के कनौसा कान्वेंट स्कूल के पास सड़क क्रॉस करते हुए देखा जाना बताया जा रहा है।

    अयोध्या में आने वाले पर्यटकों की लेकर भी जिला प्रशासन सतर्कता बढ़ा दी है। गुप्तार घाट जाने वाले क्षेत्र में जाने के लिए बड़े और बंद वाहनों को ही प्रवेश दिया जा रहा है इसके साथ ही गुप्तार घाट पर भी अधिक समय न रुकने भी नही दिया जा रहा है। इस दौरान वहां की सुरक्षा के लिए बड़ी संख्या में फोर्स को तैनात कर दिया गया है। लेकिन पर्यटकों के लिए यह स्थान सुरक्षित नही है। क्षेत्रीय वन अधिकारी सीतांशु पांडे ने बताया कि क्षेत्र में दहशत का माहौल है इसको देखते हुए पेट्रोलिंग बढ़ा दिया गया है साथ ही लोगों से अपील की जा रही है कि अपने आप को सुरक्षित रखें वही बताया कि कुछ रिस्पांस टीम के द्वारा लगातार क्षेत्र में गस्त किया जा रहा है। राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण के दिशा निर्देश के अनुसार उसे पकड़ने का प्रयास भी किया जा रहा है। वही बताया कि क्षेत्र में कई स्थानों पर पिंजड़े भी लगाए गए हैं।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.