Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    रायबरेली। शिकायतों पर गम्भीर दिखी मंत्री, खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा वीडियो बनाने पर सख्त हुई मंत्री बर्खास्तगी के दिए निर्देश:- स्मृति ईरानी

    ..............कैम्प का आयोजन कर सरकारी योजनाओं को पात्र व गरीब व्यक्तियों को दिया जाए लाभ

    .......जिलाधिकारी ने प्रस्तुत की विकास की रिपोर्ट

    रायबरेली। सांसद, संसदीय क्षेत्र अमेठी एवं केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास  एवं अल्पसंख्यक मंत्रालय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कलेक्ट्रेट स्थित बचत भवन के सभागार जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में जिले के विकास से जुड़े सभी बिन्दुवार चर्चा की गई। बैठक में जिलाधिकारी  माला श्रीवास्तव ने जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) से सम्बन्धित समस्त योजनाओं का बिन्दुवार प्रस्तुतिकरण किया। बैठक में अध्यक्ष  ने जनपद में महिलाओं के स्वयं सहायता समूह में हो रहे कार्यों आदि की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि अति गरीब महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाया जाना अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि जो पारम्परिक स्वयं सहायता समूह हैं, उनसे इतर गरीब, अति पिछड़ी अति गरीब महिलाओं को इन समूहों से जोड़कर उनके आर्थिक स्वालम्बन का कार्य किया जाए। उन्होंने कहा कि उन स्वयं सहायता समूहों को तकनीक से जोड़ने का कार्य भी प्राथमिकता पर किया जाए। अध्यक्ष  ने प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, सड़क निर्माण आदि जन कल्याणकारी योजनाओं के कार्यों की प्रगति पर कहा कि पात्रों के चयन में पारदर्शिता होनी चाहिए तथा कार्यों की गुणवत्ता किसी भी स्तर पर प्रभावित नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जन कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यों का उद्देश्य गरीबों के परिवार की आर्थिक एवं शैक्षिक स्थिति में सुधार के साथ साथ ईज ऑफ लिविंग प्रदर्शित होना चाहिए। 

    • शिकायतों पर गम्भीर दिखी मंत्री

    मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कहा कि ऐसा बताया गया है कि सरकार द्वारा चलाई जा रही सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में कुछ अधिकारियों द्वारा अपात्रों का चयन करने की शिकायतें प्राप्त हुई है। जिसपर सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों सहित अपात्रों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही नियामानुसार की जानी चाहिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि इस बैठक में प्रस्तुत प्रगति पुस्तिका में विकास कार्यों की गलत रिपोर्ट देने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही नियमानुसार की जाए । बैठक में एक महिला जनप्रतिनिधि ने अवगत कराया गया कि ग्रामीण आवास प्राप्त करने के लिए आधार के नियम विरुद्ध प्रयोग किया गया। जिस पर अध्यक्ष ने निर्देश दिये गये कि यह कृत्य अति गम्भीर है। यदि आवश्यक हो तो जांच आदि कराकर नियमानुसार कड़ी कार्यवाही की जाए । जल जीवन मिशन के अन्तर्गत जनपद में हो रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि यदि सम्बन्धित कम्पनी काम नहीं कर रही है तो उसे बदले के लिए शासन को लिखकर अवगत कराया जाए । राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने निर्देश दिये कि शासन स्तर पर पत्र व्यवहार किया जाए । उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में दिव्यांग कन्याओं के लिए विशेष योजना बनाई जाने का प्रस्ताव प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिये साथ ही यह भी कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही समस्त जन कल्याणकारी योजनाओं में विशेष रुचि लेकर नियमित अनुश्रवण कर इनका पारदर्शी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए और निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति के लिए दूर दराज क्षेत्रों आदि में कैम्प का आयोजन कर सरकारी योजनाओं को पात्र व गरीब व्यक्तियों को लाभ दिया जाए। साथ ही महिलाओं के बीच जागरूकता अभियान विशेष रूप से चलाया जाए । बैठक में केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि जनपद में पासी समाज के वीरों के बलिदान का स्वर्णिम इतिहास रहा है। इस धरती पर पासी समाज के अनेकों लोगों ने विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य किये है । प्रधानमंत्री  द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर उन्हें याद करते हुए उनकी स्मृति में कार्य करने का प्रस्ताव जिला प्रशासन द्वारा तैयार कर सरकार को प्रेषित कराया जाए । उन्होंने कहा कि जनपद  के पक्षी विहार को पारिस्थितिकीय एवं पर्यावरण के दृष्टिकोण से उसका सौन्दर्यीकरण कराये जाने हेतु भी प्रस्ताव तैयार कर प्रेषित किया जाए। 

    • बैठक में यह रहे मौजूद

    उत्तर प्रदेश के उद्यान, कृषि विपणन, कृषि विदेश व्यापार तथा कृषि निर्यात राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  दिनेश प्रताप सिंह, जिला पंचायत अध्यक्षत  रंजना चौधरी, नगर पालिका अध्यक्ष  पूर्णिमा श्रीवास्तव, एमएलसी शिक्षक  उमेश द्विवेदी, एमएलसी स्नातक अवनीश कुमार सिंह, सदर विधायक अदिति सिंह, सलोन विधायक अशोक कुमार, ऊँचाहार विधायक डा० मनोज कुमार पाण्डेय, बछरावां विधायक श्याम सुन्दर भारती, सरेनी विधायक देवेन्द्र प्रताप सिंह, हरचन्दपुर विधायक राहुल राजपूत सहित जिलाधिकारी श्रीमती माला श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक  आलोक प्रियदर्शी, मुख्य विकास अधिकारी  प्रभाष कुमार, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व श्रीमती पूजा मिश्रा, पीडी राजेश कुमार एवं अन्य सदस्यों सहित सभी जनपदीय स्तरीय अधिकारी भी मौजूद रहे।

    • वीडियो बनाने पर सख्त हुई मंत्री बर्खास्तगी के दिए निर्देश

    केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की अध्यक्षता में  बचत भवन में अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक चल रही थी। बैठक के दौरान अधिकारियों से विकास कार्यों को लेकर चर्चा चल रहे थे तभी खाद्य सुरक्षा अधिकारी अजीत सिंह वीडियो बनाने में व्यस्त रहें। केंद्रीय मंत्री की नजर उन पर पड़ी उन्होंने तत्काल ऐसे अधिकारी को सस्पेंड करने के निर्देश वहां  मौजूद जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव को दिए। यह  देखते ही मौजूद अधिकारियों ने चुप्पी साध ली।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.