Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    प्रयागराज। विवाहिता की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, अपराधी सलमान उर्फ पुदीन को गिरफ्तार।

    Ekhlak Haider

    प्रयागराज। पूरामुफ्ती थाना क्षेत्र के मरियाडीह गांव में विवाहिता राबिया की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने राबिया की हत्या में उसके पति सलमान उर्फ पुदीन को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सलमान की निशानदेही पर राबिया का मानव कंकाल बमरौली के जंगलों से बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इसके साथ ही अभियुक्त सलमान की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त आला कत्ल को भी बरामद कर लिया है।

    राबिया 13 जुलाई को अपनी बहन के साथ प्रयाग स्टेशन से बमरौली पहुंची थी। जहां से रबिया अपने पति सलमान के साथ गई थी। उसके बाद से उसका कोई पता नहीं चल रहा था। राबिया के परिजनों ने पूरामुफ्ती थाने में दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। जिस मामले में पुलिस ने हिरासत में लेकर जब सलमान से सख्ती से पूछताछ की तो उसने हत्या का जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस सलमान को गिरफ्तार कर अग्रिम विधिक कार्रवाई कर रही है।

    गौरतलब है कि मरियाडीह की रहने वाली राबिया की पहली शादी असरौली निवासी अबू सलीम के साथ हुई थी। लेकिन राबिया का गांव के ही रहने वाले सलमान से प्रेम प्रसंग चल रहा था और दोनों के बीच आपस में बातचीत होती थी। जिसके चलते राबिया ने अपने पूर्व पति अबू सलीम से तलाक ले लिया और जनवरी 2022 में सलमान और राबिया ने निकाह कर लिया। निकाह के लिए सलमान सहमत नहीं था। राबिया के दबाव में आकर सलमान ने निकाह किया था। निकाह के बाद से ही दोनों के बीच होती छोटी बातों को लेकर विवाद होने लगा था। सलमान के घर वाले भी इस निकाह से खुश नहीं थे। जिसके चलते सलमान अलग कमरा लेकर राबिया के साथ रहने लगा। राबिया द्वारा लगातार सलमान से झगड़ा करते हुए उसे अपमानित किया जाता था। जिससे क्षुब्ध होकर सलमान ने 13 जुलाई को राबिया को बमरौली से अपनी बाइक पर बैठा कर मुंडेरा, प्रीतमनगर और झलवा में घुमाया। उसके बाद राबिया को विश्वास में लेकर लाल बिहारा के सामने गंगा नदी की तरफ बमरौली के जंगल में ले जाकर धोखे से राबिया के दुपट्टे से उसका गला घोंट कर हत्या कर दी। सलमान ने मृतका की पहचान छिपाने के लिए उसके सिर को गर्दन से काटकर दोनों हाथों को कुहनी से सटाकर अलग कर दिया। धड़ व पैरों को एक बोरे में भरकर पड़ोस के झाड़ियों में फेंक दिया। जबकि सिर और दोनों हाथों को पानी भरे खेत में गड्ढा बनाकर डाल दिया और मृतका के कपड़ों को वहीं मौके पर जला दिया। सलमान गर्दन व हाथ काटने के लिए घर से छुरी भी लाया था। जिसे अमरूद के बाग किनारे मिट्टी में दबा दिया था। अभियुक्त सलमान लोगों को धोखा देने के लिए मृतका राबिया के मोबाइल फोन को इधर-उधर चालू दिशा में ले जाता रहा था। मोबाइल फोन को स्वयं लेकर 15 जुलाई को कानपुर तक तक गया और चलती ट्रेन में मृतका राबिया का मोबाइल फोन छोड़कर वापस प्रयागराज आ गया। राबिया की बहन.सूफिया की ओर से 8 अगस्त को गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। जिसके बाद पुलिस लगातार सलमान से पूछताछ कर रही थी। लेकिन सलमान पुलिस को गुमराह कर रहा था। लेकिन पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो सलमान टूट गया और उसने हत्या की बात कबूल कर ली।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.