Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    भदोही। पूर्व विधायक विजय मिश्र के पेट्रोल पंप से एक AK-47, एक पिस्टल और भारी मात्रा में कारतूस बरामद।

    • पूर्व विधायक विजय मिश्र के पेट्रोल पंप से एके-47 और चार मैगजीन नौ एमएम की पिस्टल के साथ 375 जिन्दा कारतूस भी पंप से मिले। 
    • पूर्व विधायक के बेटे विष्णु को रिमांड पर लेने के बाद मिली सफलता 

    भदोही। जेल में बंद बाहुबली पूर्व विधायक विजय मिश्रा के अमवा स्थित पेट्रोल पंप से पुलिस ने एके-47, चार मैगजीन के साथ 9 एमएम की पिस्टल और 375 कारतूस बरामद किया है। पुलिस को यह सफलता गिरफ्तार बेटे विष्णु मिश्र को रिमांड पर लेने के बाद मिली है।

    भदोही पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार के अनुसार गोपीगंज पुलिस ने पूर्व में दर्ज आयुध मुकदमें अदालत से विष्णु को रिमांड पर लिया था। इस दौरान पांच घंटे की पूछताछ में पुलिस को यह बड़ी सफलता मिली है। बाद हम उन्हें अमवा स्थित पेट्रोल पम्प ले जाया गया जहाँ से यह बरामदगी हुई। पुलिस अधीक्षक के अनुसार यह भी पता लगाया जा रहा है कि एके-47 का उपयोग कहां-कहां किया गया है।

    विष्णु मिश्रा भी धोखाधड़ी, संपत्ति विवाद एवं दुष्कर्म के मामले में फरार चल रहा था उस पर एक लाख का इनाम घोषित किया गया था। एसटीएफ उसे महाराष्ट्र के पुणे से गिरफ्तार किया था। विष्णु की गिरफ्तारी के लिए पुलिस द्वारा कई बार दबिश दी गयी थी, लेकिन सफलता नहीं मिली तो इनाम की राशि 25 हजार रुपए से बढ़ाकर एक लाख कर दी गयी थी।विष्णु मिश्रा के खिलाफ पहले से लुक आउट नोटिस भी जारी थी।दुष्कर्म एवं धोखाधड़ी के मामले में एसीजेएम की अदालत में पेश किया गया था। बाद में  अदालत की तरफ से विष्णु मिश्रा को आगामी 12 अगस्त तक न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है। 

    गोपीगंज कोतवाली में लगभग दो वर्ष पहले विजय मिश्रा के रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी ने  धोखाधड़ी एवं मकान और फर्म पर जबरिया कब्जा करने का मामला पूर्व विधायक विजय मिश्रा, उनके बेटे विष्णु और पत्नी रामलली मिश्र पर कराया था। वाराणसी की एक महिला ने पूर्व विधायक विजय मिश्रा उनके बेटे पर है दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था।अगस्त 2020 में विजय मिश्रा मध्य प्रदेश के मालवा से गिरफ्तार कर जेल भेजे गए थे।सवाल उठता है कि दो साल तक एके-47 पेट्रोल पंप पर रखी थी लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.