Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    आज़मगढ़। मण्डलायुक्त ने स्वतन्त्रता दिवस की 75वीं वर्षगॉंठ पर फहराया तिरंगा, किया सामूहिक रष्ट्रगान।

    ............... देश को विकास की ऊॅंचाईयों पर ले जाने में सभी का योगदान जरूरी: मण्डलायुक्त

    सैय्यद आसिफ़ हुसैन जै़दी\आज़मगढ़। मण्डलायुक्त मनीष चौहान ने स्वतन्त्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर सोमवार को अपने कार्यालय पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा तिरंगे का अभिवादन कर सामूहिक रूप से राष्ट्रगान किया। तदुपरान्त आयुक्त कार्यालय सभागार में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि देश को विकास की ऊॅंचाईयों पर ले जाने में सभी लोगों का योगदान जरूरी है। 

    उन्होंने कहा कि आज का दिन खुशियॉं मनाने के साथ ही देश को गुलामी की जंजीरों से आजाद कराने में हमारे पूर्वजों द्वारा दी गये कुर्बानियों को याद करने का भी दिन है। मण्डलायुक्त चौहान ने कहा कि स्वतन्त्र भारत को एक विकसित राष्ट्र के रूप में स्थापित करने का जो सपना देश के ज्ञात अज्ञात अमर शहीदों ने देखा था उसे साकार करने में सभी लोगों की अपनी अपनी जिम्मेदारियॉं हैं। उन्होंने आह्वान किया शासकीय सेवा कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारी अपने दायित्वों एवं कर्तव्यों का निर्वहन पूरी निष्ठा, ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ समयबद्ध रूप से करें। चौहान ने कहा कि अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ ही निजी क्षेत्र में कार्य करने वालों तथा आमजन को भी देश के प्रति अपनी नैतिक जिम्मेदारियों का बखूबी निर्वहन करना होगा तभी देश विकास के पथ पर अग्रसर हो सकेगा।

    कार्यक्रम में स्थानीय राजकीय बालिका इण्टर कालेज की छात्राओं प्रिया शर्मा, सौम्या, सिंधू, अन्नू गौंड़ द्वारा, हरिहरपुर घराने के शीतला मिश्र बन्धु द्वारा तथा कुणाल मौर्य द्वारा कई देश भक्ति गीतों की प्रस्तुति की गयी। कार्यक्रम का संचालन अपर सांख्यिकी अधिकारी सुनील कुमार प्रजापति ने किया। इस अवसर पर अपर आयुक्त हंसराज, सहायक आयुक्त (औषधित) मनुशंकर, सहायक आयुक्त (खाद्य) विनीत कुमार पाण्डेय, उपजिलाधिकारी (न्यायिक) सगड़ी सन्त रंजन श्रीवास्तव, खाद्य सुरक्षा अधिकारी मुहम्मद साकिब, शासकीय अधिवक्ता ओपी पाण्डेय, सहायक शासकीय अधिवक्ता अनिल सिंह, विनोद कुमार त्रिपाठी व राम प्रकाश त्रिपाठी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.