Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। होडल दुर्घटना में तीन की मौत।

    ऋषि भारद्वाज\पलवल। होडल में गांव बंचारी के समीप नेशनल हाईवे 19 पर गांव बंचारी  चौक पर खड़े पति पत्नी और बच्ची को एक पिकअप गाड़ी ने ग्रिल तोड़ते हुए सीधी टक्कर मार दी जिसमें चौक पर खड़े पति, पत्नी और बच्ची  गंभीर रूप से घायल हो गए । गांव के आसपास के लोगों ने घायल अवस्था में तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टर तीनों को मृत घोषित कर दिया । यह तीनों गांव बंचारी के रहने वाले हैं और यह किसी काम के लिए गांव बंचारी  से होडल जा रहे थे और सवारी के इंतजार में चौक पर खड़े हुए थे । उसी समय आगरा की तरफ से तेज रफ्तार से आ रही  पिकअप गाड़ी ने ग्रिल तोड़ते हुए 31 वर्षीय जीतेंद्र उसकी 28 वर्षीय पत्नी बबली और उसकी 10 वर्षीय बेटी तनिष्का को सीधी टक्कर मार दी जिससे तीनों की मौत हो गई ।

    मृतक के परिजनों ने इसकी शिकायत मुड़कटी  थाना पुलिस को दी । मुड़कटी  थाना पुलिस ने तीनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पलवल के नागरिक अस्पताल में भेज दिया है और पुलिस ने पिकप गाड़ी को कब्जे में लेकर चालक की तलाश शुरू कर दी है।  गांव में हुई इस घटना से पूरी तरह से मातम छा गया। मृतक परिवार अपने पीछे एक सवा महीने के बच्चे के साथ 10 वर्षीय बच्चा को छोड़ गया है और मृतक जितेंदर की मां को लकवा हो गया है जो हर समय चार पाई पर लेटी रहती है।

    मुड़कटी थाना प्रभारी वेदपाल से जानकारी देते हुए बताया की होडल में नेशनल हाईवे=19 पर  गांव बंचारी नेशनल हाइवे के साथ बने सर्विस रोड पर पैदल वाहन के इंतजार में खडे माता,पिता और उनकी पुत्री को  बुलेरो पिकअप गाडी ने टक्कर मार दी, जिसमें तीनों की मौत हो गई। घटना के बाद पिकअप गाडी चालक अपने वाहन को छोडकर मौके से फरार हो गया। पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत पर मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी है। गांव में एक की परिवार के तीन सदस्यों की मौत के बाद मातम पसरा हुआ है। उन्होंने बताया की मृतक के भाई देवी सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि आज सुबह लगभग साढे नौ बजे उसका भाई जितेंद्र 33 वर्ष ,अपनी पत्नी बबली 30 वर्ष  व 9 वर्ष पुत्री तनिष्का के साथ  जाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग के निकट वाहन के इंतजार में खडा था। उसी दौरान पलवल की तरफ से तेज स्पीड में आ रही पिकअप गाडी ने नेशनल हाइवे पर लगी ग्रिल को तोडते हुए तीनों में टक्कर मार दी। टक्कर मारने के बाद पिकअप गाडी पलट गई और चालक वाहन को छोडकर मौके से फरार हो गया, जिसमें तीनों गंभीर रूप से घायल हो गय। घटना के बाद काफी ग्रामीण मौके पर पहुुंच गए और तीनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने   जितेंद्र,अपनी पत्नी बबली व पुत्री तनिष्का को मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। गांव में सडक दुघर्टना में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत के बाद सन्नाटा पसरा हुआ है। 

    • घर में अब क्या बचा 

    मृतक जितेंदर के घर अभी  सवा महीने पहले ही एक पुत्र हुआ था और 10 साल का एक बड़ा पुत्र है जिसको वह छोड़कर इस दुनिया से चले गए। मृतक जितेंदर के पिता पुरन की 5 साल पहले सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी और उसकी माता को लकवा की बीमारी है जो हर समय चार पाई पर लेटी रहती है। अब इसके माशुम पुत्र जिसने अभी दुनिया में कदम रखा है और इनके बड़े बेटे और मां की कौन देखभाल करेगा इसका दुख पूरे गांव के लोगों की है। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.