Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    श्रावस्ती। त्योहार में कोई भी ऐसी परम्परा न कायम की जाए, जिससे अमन-चैन का हो खतरा-जिलाधिकारी

    • आगामी त्योहार ईदुज्जुहा (बकरीद) के मद्देनजर कलेक्ट्रेट में सभागार शांति समिति की बैठक
    • सम्पन्नशान्तिपूर्ण ढंग से हिल-मिल कर मनायें त्योहार-जिलाधिकारी
    • बकरीद पर विद्युत, पेयजल एवं साफ सफाई का बेहतर प्रबन्ध करें सम्बन्धित अधिकारीगण-जिलाधिकारी
    • त्योहार के अवसर पर गुड पुलिसिंग की रहेगी व्यवस्था-पुलिस अधीक्षक

    सर्वजीत सिंह\श्रावस्ती। जनपद में आगामी त्योहार ईदुज्जुहा (बकरीद) शान्तिपूर्ण माहौल में सम्पन्न कराये जाने के मद्देनजर कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी नेहा प्रकाश की अध्यक्षता में जिला शान्ति समिति की बैठक सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न हुई। इसमें प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मौजूद सभी संभ्रान्त नागरिकों ने आशा जताई कि पूर्व वर्षाे की भांति इस वर्ष भी जनपद में ईदुज्जुहा (बकरीद) का त्योहार भाई-चारे के साथ मनाया जायेगा। 

    बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए जनपद अपनी अलग पहचान रखता है। उन्होने जनपद वासियों से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग शान्तिपूर्ण ढंग से हिल-मिल कर त्योहार मनायें। त्योहार में कोई भी नई परम्परा न कायम की जाए, जिससे अमन-चैन का खतरा हो। उन्होने सभी लोगांे से अपील की है त्योहार के अवसर पर कोई ऐसा कार्य न करें, जिससे एक-दूसरे की भावनाएं आहत हो। साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि जिले के अमन-चैन से खिलवाड़ करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। जिला प्रशासन द्वारा बकरीद त्योहार पर विद्युत, पेयजल एवं साफ सफाई आदि के माकूल बन्दोबस्त कराये जायेंगे। जिले में बिना अनुमति के कोई भी जुलूस नही निकलेगा, और प्रतिबन्धित जानवरों की कुर्बानी नही की जायेगी। सामूहिक एवं खुले स्थानों पर कुर्बानी पूर्णतया प्रतिबन्धित रहेगा। यदि किसी भी व्यक्ति द्वारा शान्ति समिति बैठक में तय हुए बिन्दुओं की अनदेखी करके कोई भी ऐसा कार्य जिसमें अमन-चैन में बाधा उत्पन्न होने की सम्भावना हो, करने की कोशिश करेगा तो निश्चित ही उनके विरूद्ध विधिक कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। 

    उन्होने यह भी कहा कि आगामी 14 जुलाई से पवित्र श्रावण मास का प्रारंभ हो रहा है। 26 जुलाई को श्रावण शिवरात्रि का पर्व है। श्रावण मास में परंपरागत कांवड़ यात्रा निकाली जाती है। ऐसे में श्रद्धालुओं का उत्पीड़न न किया जाए। साथ ही यह भी ध्यान रखा जाए कि डीजे, गीत-संगीत आदि की आवाज निर्धारित मानकों के अनुरूप हो। धार्मिक यात्राओं/जुलूसों में अस्त्र-शस्त्र का प्रदर्शन नहीं होना चाहिए। ऐसी कोई घटना न हो, जिससे दूसरे धर्म के लोगों की भावनाएं आहत हो। उन्होने आगामी त्योहारों को देखते हुए नगर निकाय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर साफ-सफाई एवं बिजली की मुकम्मल व्यवस्था हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया है। उन्होने यह भी कहा कि व्यवस्थाओं से जुड़े सम्बन्धित अधिकारी अपने दायित्वों का बाखूबी निर्वहन करके तीज-त्योहारों को शान्तिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न करायें। जिन क्षेत्रों में अभी तक शान्ति समिति की बैठक नही हुई है। सम्बन्धित उपजिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, तहसीलदार एवं थानाध्यक्षगण आपस में समन्वय बनाकर शान्ति समिति की बैठक कर लें। शान्ति समिति की बैठक के दौरान यदि कोई समस्या या शिकायत आती है तो उनका सूचीबद्ध कर निराकरण भी करायें, ताकि शान्तिपूर्ण ढंग से त्योहारों को सम्पन्न हो सके। 

    बैठक में पुलिस अधीक्षक अरविन्द कुमार मौर्य ने कहा कि सभी लोग बकरीद का त्योहार एक-दूसरे की भावनाओं का आदर करते हुए मिल-जुल कर मनाये। उन्होने कहा कि त्योहार के अवसर पर गुड पुलिसिंग की व्यवस्था रहेगी। उन्होने संभ्रान्तजनों व बुजुर्गों से अपील करते हुए कहा कि त्योहार के अवसर पर संयमित आचरण करके हिल-मिलकर त्योहार मनायें। कोई भी ऐसा कार्य न किया जाए, जिससे एक-दूसरे को ठेस पहुंच रही हो। त्योहारों के दौरान खूफिया के भेस में पुरूष एवं महिला आरक्षी भीड़-भाड़ स्थानों पर मुस्तैद रहेंगे। यदि किसी भी व्यक्ति द्वारा अमन-चैन में बाधा उत्पन्न करने की कोशिश करता है तो तत्काल उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जायेगा। बैठक का संचालन अपर जिलाधिकारी कमलेश चन्द्र ने किया। 

    इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक केशव चन्द्र गोस्वामी, उपजिलाधिकारी क्रमशः भिनगा प्रवेन्द्र कुमार, इकौना आर0पी0 चौधरी, जमुनहा सौरभ शुक्ला, उपजिलाधिकारी रोहित, उपजिलाधिकारी आशुतोष, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 शारदा प्रसाद तिवारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी अतुल कुमार चौबे, जिला पंचायत राज अधिकारी आनन्द प्रकाश, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका भिनगा यदुनाथ, अभिसूचना इकाई निरीक्षक राकेश कुमार चन्द्र, सहायक अभियंता विद्युत, सहित अधिकारी/कर्मचारीगण, थाना प्रभारीगण तथा दोनों संगठनों के पदाधिकारीगण, बुद्धिजीवी वर्ग एवं सम्भ्रांत नागरिकगण उपस्थित रहें।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.