Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    वाराणसी। पर्यावरण बचाओ, पॉलिथीन भगाओ

    ............. रैली निकालकर लोगो को किया जागरूक

    वाराणसी। केंद्र सरकार के निर्देश पर एक जुलाई से केवल एक बार उपयोग होकर पर्यावरण में जहर फैला रहे प्लास्टिक उत्पादों पर देशभर में प्रतिबंध लग गया। अब न कोई यह सिंगल यूज प्लास्टिक बनाएगा और न इसका आयात या भंडारण करेगा। इसे बेचने और उपयोग करने पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। केंद्र सरकार के किए गए घोषणा को देखते हुए पर्यावरण के लिए हानिकारक एवं कैंसर का प्रमुख कारण बन रहे पॉलीथिन के निर्माण भंडारण व इस्तेमाल के खिलाफ लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से सामाजिक संस्था सुबह-ए-बनारस क्लब के बैनर तले मैदागिन चौराहे से जन- जागरूकता अभियान चलाया गया। 

    जिसमें पॉलीथिन का इस्तेमाल हम नहीं करेंगे, पॉलिथीन भगाओ पर्यावरण बचाओ,पॉलिथीन का इस्तेमाल दंडनीय अपराध है आदि नारे के साथ तख्ती बैनर लेकर लोग चल रहे इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल, महासचिव राजन सोनी, उपाध्यक्ष अनिल केसरी, एवं कोषाध्यक्ष नंद कुमार ने कहा कि केन्द्र सरकार की मंशा को देखते हुए प्रशासन को पॉलिथीन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने के लिए कड़ाई से कटिबद्ध होना पड़ेगा। ऐसे लोगों पर विशेष ध्यान देना होगा। जहां इस घातक पॉलिथीन का निर्माण होता है। ऐसे व्यापारी जो निर्माण करते हैं संस्था द्वारा उनसे अनुरोध है कि वह समाज के हित में अपने होनहारो के हित में प्लास्टिक का निर्माण बंद करके पर्यावरण की मांग को देखते हुए सरकार के इस कार्य में सहयोग प्रदान करें। ज्ञात हो कि सड़क पर फेंकी गई पॉलिथीन से विशेषकर बरसात में नांलिया चोक हो जाती है। जिससे जगह-जगह जलभराव हो जाता है। जिसके कारण घंटों यातायात प्रभावित हो जाता है। अक्सर देखा गया है कि कूड़े-करकट में फेंके गए पॉलिथिन को खा लेने की वजह से पेट में सड़ने की वजह से कई गाय व अन्य जानवर अकारण मर जाते हैं। पॉलिथीन के कारण वातावरण भी संकट में है। कैंसर जैसे गंभीर बीमारी का एक प्रमुख कारण पॉलिथीन भी है। अगर अब भी पॉलिथीन का इस्तेमाल करने से रोका नहीं गया तो पृथ्वी गंभीर संकट में पड़ जाएगी। इसलिए सभी लोगों से पुरजोर ढंग से अपील किया जाता है कि वह पॉलिथीन का बहिष्कार करते हुए पुराने ढर्रे के तहत अपने घर से कपड़े का झोला, जूट का बैग लेकर सामान लेने के लिए बाजार में निकले। इस दौरान मुकेश जायसवाल,  राजन सोनी, अनिल केसरी, नंदकुमार, नीचीबाग व्यापार मंडल के अध्यक्ष प्रदीप गुप्त, डॉ मनोज यादव, पारसनाथ केसरी, अश्वनी जायसवाल, राजेश श्रीवास्तव, पप्पू रस्तोगी, पंकज पाठक, चंद्रशेखर प्रसाद, राजेंद्र अग्रहरि, प्रदीप जायसवाल, राजेंद्र कुशवाहा, बसंत जायसवाल, बबलू सेठ, विजय वर्मा सहित कई लोग शामिल रहे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.