Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। होटल में रंगरेलियां मनाते सिपाही को पत्नी ने रंगे हाथ पकड़ा।

    • गैर महिला के साथ पकड़े जाने के बाद घंटो चले हाईवोल्टेज ड्रामे का वीडियो वायरल
    • कांस्टेबल राजीव यादव का फर्ज़ीवाड़ा भी आया सामने
    • कांस्टेबल ने बनवा रखा है उप-निरीक्षक पद का फर्जी आईडी कार्ड 
    • पत्नी का आरोप उप-निरीक्षक के फ़र्ज़ी आईडी कार्ड से रौब गांठकर उगाही करता है कांस्टेबल राजीव यादव

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। मूलरूप से औरैया निवासी और नौबस्ता थाने में तैनात कांस्टेबल की पत्नी ने कांस्टेबल को गैर महिला के साथ लखनऊ स्थित एक फ्लैट में पकड़ लिया।गैर महिला के साथ पकड़े जाने के बाद घंटो चले हाईवोल्टेज ड्रामे का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।इतना ही नही कांस्टेबल ने उप-निरीक्षक का एक फ़र्ज़ी आईडी कार्ड भी बनवा रखा था, जो सोशल मीडिया में वायरल हैं।इस पूरे हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद पत्नी ने कानपुर के नौबस्ता थाने में तहरीर देकर अपने कांस्टेबल पति पर कार्रवाई की मांग की है।

    नौबस्ता मछरिया निवासी विजयाराजे यादव कांस्टेबल राजीव यादव की पत्नी है।उन्होंने अपने कांस्टेबल पति राजीव यादव को लखनऊ स्थित एक फ्लैट में किसी गैर महिला के साथ रंगरलिया मनाते हुए पकड़ लिया।इसके बाद घंटों मियां बीवी और गैर महिला के बीच हाईवोल्टेज ड्रामा चलता रहा,जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा हैं।इतना ही नही कांस्टेबल राजीव यादव का एक फर्ज़ीवाड़ा भी सामने आया है।कांस्टेबल पद पर तैनात राजीव यादव ने उप-निरीक्षक पद का एक फ़र्ज़ी आईडी कार्ड भी बनवा रखा हैं,जो सोशल मीडिया में वायरल हैं।पत्नी विजयाराजे यादव का आरोप है कि उप-निरीक्षक के फ़र्ज़ी आईडी कार्ड से राजीव यादव एक साल से उगाही कर रहा हैं।

    कांस्टेबल राजीव को गैर महिला के साथ पकड़ने के बाद पत्नी विजयराजे ने नौबस्ता थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की थी।लेकिन कई दिन बीत जाने के बाद भी जब कार्रवाई नही हुई तो पत्नी विजयराजे ने डीसीपी साउथ दफ्तर पहुँचकर अपने कांस्टेबल पति की कारगुजारियों की शिकायत की और कार्रवाई की मांग की हैं। वहीं इस पूरे प्रकरण पर एडिशनल डीसीपी साउथ मनीष सोनकर का कहना कि कांस्टेबल की पत्नी ने शादीशुदा होते हुए  दूसरी शादी करने के संबंध में शिकायत की है,जिसकी जाँच ACP गोविंदनगर को सौंप दी गई है। पुलिस उच्चाधिकारी शादीशुदा होते हुए दूसरी शादी के संबंध में जाँच की बात तो कह रहे है,लेकिन कांस्टेबल के उप-निरीक्षक के फर्जी आईडी कार्ड के फर्ज़ीवाड़े पर अधिकारियों की तरफ से किसी भी प्रकार की कार्रवाई नही की गई हैं।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.