Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। अनाज पर जीएसटी लगाकर भाजपा ने देश का मजाक उड़ाया।

    इब्ने हसन ज़ैदी\कानपुर। नॉन ब्रांडेड अनाज व खाद्य सामग्री पर जीएसटी लगाने को हर वर्ग की थाली खाली करने वाला कदम बताते हुए आज विरोध में समाजवादी व्यापार सभा व उत्तर प्रदेश प्रांतीय व्यापार मंडल  से जुड़े व्यापारियों ने थाली बजाते हुए विरोध सत्याग्रह किया और अनाज व खाद्य सामग्री पर जीएसटी लगाने के निर्णय को वापस लेने की मांग रखी।पूर्व प्रदेश महासचिव सपा व्यापार सभा व प्रांतीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता  के नेतृत्व में एकता चौराहे पर थाली बजाओ सत्याग्रह करते हुए अनाज  पर जीएसटी वापस लो के नारे लगाए गए।काफी संख्या में छोटे किराना व परचून व्यापारी मौजूद थे।

    अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की केंद्र सरकार द्वारा इस महंगाई के दौर में खाद्य व अनाज पर जीएसटी लगाना देश के साथ एक क्रूर मजाक है।अब तो थाली खाली हो जाएगी इसलिए थाली बजाकर केंद्र सरकार के कानों तक आवाज पहुंचा रहे हैं। हर कोई इससे नाराज है। आजादी के बाद पहली बार इन आवश्यक वस्तुओं पर टैक्स लगाना मोदी सरकार की संवेदनहीनता व तानशाही का परिचय देता है। 

    विनय कुमार ने कहा की इससे छोटे व्यापारी,किसान,नौकरीपेशा,सब परेशान हो जाएंगे। इस फैसले से जहां एक ओर छोटा व्यापारी परेशान होगा तो वहीं गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों की कमर टूटेगी। आजाद खान ने कहा की इस फैसले से हर वस्तु के दाम 2 से 5 रूपए प्रतिकिलोे तक बढ़ जाएंगे।नॉन ब्रांडेड पैक्ड खाद्य सामग्री जैसे की अनाज,चावल,दाल,लस्सी, बटरमिल्क,दही,शहद आदि पर यह फैसला तर्कहीन है और केवल मोदी सरकार द्वारा बड़ी कंपनियों को फायदा पहुंचाने  के लिए यह निर्णय लिया गया है।मनोज चौरसिया ने कहा की इससे छोटे व्यापारी जबरदस्ती जीएसटी के उत्पीड़क मकड़जाल में फंसेंगे और या तो व्यापार बंद कर देंगे या कीमतें बढ़ा देंगे जिससे की आम जन को महंगाई का सामना करना पड़ेगा। सत्याग्रह करते हुए इस फैसले को वापस लेने की मांग की गई। अभिमन्यु गुप्ता,आजाद खान,विनय कुमार,मनोज चौरसिया,अमित चढ्ढा,प्रेम सिंह कुशवाहा,आमिर सिद्दीकी,शेषनाथ यादव,गुड्डू यादव,शिव शरण यादव,इरशाद अहमद,सद्दाम हुसैन आदि थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.