Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीतापुर। भूमाफिया गैंगस्टर रमन साहिनी की साढ़े छह करोड़ की संपत्ति जब्त

    .......... नौकर व पुत्र के नाम खरीद रखी थी जमीन

    सीतापुर। योगी सरकार का भूमाफियाओं के विरुद्ध लगातार चल रहा है इस क्रम में प्रशासन व पुलिस ने शुक्रवार को भू-माफ़िया और गैंगस्टर रमन साहनी के बेनामी संपत्ति सीज करने की कार्यवाई की है। पुलिस ने मजिस्ट्रेट की अगुवाई में शुक्रवार को गैंगस्टर रमन साहनी की तकरीबन 20 बीघा आवासीय प्लाट जमीन को सीज करते हुए उस पर नोटिस बोर्ड लगाया है। यह कार्यवाही सदर एसडीएम अनिल रस्तोगी, सीओ सिटी पियूष सिंह, तहसीलदार ज्ञानेन्द्र द्विवेदी, शहर कोतवाल टीपी सिंह, कोतवाली देहात प्रभारी मुकल वर्मा आदि राजस्व व पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में की गई। सीओ सिटी ने बताया कि गैंगस्टर की जब्त की गयी संपत्ति की बाजार में कीमत साढ़े 6 करोड़ बतायी जा रही है। 

    संपत्ति जब्त करते पुलिस अधिकारी। 

    पुलिस कार्यवाई में जब्त की गयी गैंगस्टर की जमीन उसने अपने नौकर और परिवार के अन्य सदस्यों के नाम पर खरीद रखी थी, उन्होने बताया कि शहर के मोहल्ला लक्ष्मी मार्केट निवासी रमन साहनी पर सरकारी जमीनों पर कब्जा सहित अन्य मामलों में भू-माफिया घोषित है। पुलिस ने इस माफिया पर 2/3 यूपी गैंगस्टर की कार्यवाई करते हुए कुछ माह पहले भी रमन साहनी की अपराध से अर्जित अकूत संपत्तियों को जब्त करने की कार्यवाई की थी। इसके बाद पुलिस ने पुनः गैंगस्टर की संपत्ति चिन्हीकरण में पाया कि गैंगस्टर ने अपने नौकर और परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ बीबी बेनामी संपत्ति कूटरचित तरीके से बनायी है। जिला मजिस्ट्रेट के आदेश के उपरांत आज कोतवाली पुलिस ने दो गांवों के बाहर पड़ी आवासीय प्लाट की जमीन को सीज कर दिया है। पुलिस ने शुक्रवार को कोतवाली देहात स्थित गैंगस्टर रमन साहनी की ग्राम टेडवा चिलौला और नैपालपुर स्थित आवासीय प्लाट के लिए खरीदी गयी जमीन को जब्त करने की कार्यवाई की है। इंस्पेक्टर तेज प्रकाश सिंह का कहना है कि शुक्रवार जब्त की गयी जमीन की कीमत साढ़े 6 करोड़ है और यह जमीन रमन साहनी के नौकर श्रीकांत के नाम से ली गयी थी। पुलिस का कहना है कि इससे पहले भी गैंगस्टर की तकरीबन 10 करोड़ से अधिक की संपत्ति को जब्त किया जा चुका था और आज पुनः साढ़े 6 करोड़ की बेनामी संपत्ति जब्त की गयी है। 

    भूमाफिया रमन साहनी के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्यवाही जिला मजिस्टेªट न्यायालय से की गई है। इसके द्वारा अपराध से कमाई गई सम्पत्ति की जब्तीकरण कार्यवाही की जा रही है, इससे पूर्व मे भी सम्पत्ति जब्त की जा चुकी है। इसके साथ ही कई अन्य सम्पत्तियां चिन्हित जांच की जा रही है-अनिल रस्तोगी एसडीएम सदर सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.