Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। नशा मुक्ति केंद्र में टार्चर करने से युवक की मौत।

    ऋषि भारद्वाज\पलवल। असवाटा मोड़ स्थित नशा मुकित केंद्र में अधिक टॉर्चर करने की वजह से पच्चीस वर्षीय युवक की मौत हो गई। कैंप थाना पुलिस ने मृतक युवक की मां की शिकायत पर केंद्र संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। हालांकि सवाल यह उठता है कि नशा मुकित केंद्र में केवल सुधार व सुरक्षा के लिए किसी को भर्ती कराया जाता है। लेकिन इस तरह की वारदात का सामने आना बड़ा ही चिंता का विषय है।

    पलवल की कृष्णा कॉलोनी निवासी अनीता देवी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि उसका पुत्र विजय शराब का आदि था। जिसको लेकर उसने विजय को असावाट मोड स्थित नशा मुकित केंद्र संचालक सुंदर निवासी असावटा गांव के हवाले किया था और उनकी तय फिस भी उनको दी थी। चार महिने तक विजय नशा मुकित केंद्र में रहा और समय अवधि समाप्त होने के बाद उसे वापस घर भेज दिया गया। लेकिन विजय को फिर से शराब की लत गई। पीडि़ता ने फिर से विजय को नशा मुकित केंद्र संचालक के हवाले कर दिया। इसी दौरान पीडि़ता की तबीयत खराब हो गई और वह बीच-बीच में अपने पुत्र का हाल-चाल पूछ नहीं पाई। विजय पिछले दो महिने से नशा मुकित केंद्र में था। केंद्र संचालक ने पीडि़ता को यह कहकर बुलाया था कि समय अवधि के कुछ रुपये आप पर बकाया है। पीडि़ता केंद्र संचालक के पास पहुंची और अपने बेटे को वापस अपने साथ ले आई। केंद्र संचालक ने हजारों रुपये पीडि़ता पर बकाया भी बताए। लेकिन केंद्र से निकलते ही विजय ने अपनी मां को बताया कि उसे यहां पर पिछले पांच-सात दिनों से कॉफी टॉर्चर किया गया है और उसकी तबीयत बहुत ही खराब है तथा उसके पेट में दर्द है। लेकिन संचालक ने पीडि़ता से कहा कि विजय ड्रामा कर रहा है और पूर्ण रुप से ठीक है। लेकिन मां की ममता नहीं मानी और अपने पुत्र को लेकर उपचार के लिए अस्पताल पहुंची। जहां चिकित्सकों ने पीडि़ता के पुत्र विजय को मृत घोषित कर दिया। पीडि़ता का आरोप है कि उसने अपने पुत्र को नशा मुकित केंद्र संचालक के हवाले इस लिए किया था कि वह नशा मुकत हो सके और वह सुधर जाए। लेकिन किसी को इतना टॉर्चर करना कि उसकी जान चली जाए। यह कहां का न्याय है। पीडि़ता ने प्रशासन से न्याय की गुहार लगाते हुए आरोपी संचालक के खिलाफ उचित कार्रवाई व मुआवजे की मांग की है। कैंप थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह का कहना है कि मृतक युवक की मां की शिकायत पर नशा मुकित केंद्र संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया गया है। मामले की गहनता से जांच की जा रही है कि लापरवाही किस की रही है। मामले मेें उचित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी और आरोपी को शीघ्र ही गिरफतार किया जाएगा।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.