Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बाराबंकी। इंटर के परिणाम से आहत छात्रा ने नहर में कूदकर दी जान।

    बाराबंकी। यू पी बोर्ड की परीक्षा परिणाम जिंदगी और मौत के बीच की गुत्थी  में उलझ गए हैं। ऐसा ही एक प्रकरण थाना बड्डूपुर क्षेत्र में हुआ। जिसमे इंटरमीडिएट परीक्षा में उम्मीद से कम नंबर मिलने से आहत होकर शारदा नहर में छलांग लगाने वाली छात्रा का शव भगौली रेगुलेटर के पास से पुलिस ने बरामद किया। परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराए बगैर अंतिम संस्कार कर दिया है। शव मिलने के बाद मीरानगर गांव में मातमी माहौल है।

    सीतापुर जनपद के कस्बा महमूदाबाद के सीता इंटर कालेज की इंटरमीडिएट की छात्रा गरिमा वर्मा (17) पुत्री गिरीशचंद्र वर्मा का शनिवार की शाम परीक्षा परिणाम आया था। परीक्षा परिणाम में गरिमा को 81.6 प्रतिशत अंक भी मिले थे। लेकिन पढ़ाई में की गई मेहनत की अपेक्षा उसे यह परिणाम रास नहीं आ रहा था। रविवार की सुबह हमेशा की तरह महमूदाबाद कोचिंग के लिए निकली गरिमा नहर पटरी होते हुए महमूदाबाद थाना क्षेत्र के लैलकलां गांव के सामने पहुंची। जहां उसने अपना कोचिंग ले जाने वाली बैग, साईकिल, चप्पल और एक सुसाइड नोट लिखकर छोड़ने के बाद शारदा सहायक नहर में छलांग लगा दी थी। पुलिस और ग्रामीण गोताखोरों की मदद से रविवार की दोपहर से तलाश कर रहे थे। सोमवार की दोपहर करीब दो बजे बड्डूपुर थाना क्षेत्र के भगौली रेगुलेटर के पास एक किशोरी का शव उतराता दिखाई दिया। ग्रामीणों व गोताखोरों द्वारा कड़ी मशक्कत के बाद शव को बाहर निकाला गया जिसकी पहचान शारदा सहायक नहर में लैलकलां गांव के सामने नहर में कूदने वाली छात्रा गरिमा वर्मा के रूप में हुई। परिजनों ने शव का पंचनामा और पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। पुलिस ने पजिनों के अनुरोध पर पंचनामा भरकर शव का बिना पोस्टमार्टम कराए अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया। परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

    Initiate News Agency (INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.