Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    वाराणसी। राष्ट्रपति ने सपरिवार षोडशोपचार विधि से किया बाबा का दर्शन-पूजन।

    ......... सुरक्षा में तैनात रहे 15 एएसपी 25 डिप्टी एसपी 200 दरोगा 1500 कांस्टेबल

    ................ झुग्गियों को छिपाने के लिए प्रशासन ने लगवाए पर्दे

    वाराणसी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पत्नी सविता कोविंद के साथ एक दिवसीय दौरे पर रविवार दोपहर वाराणसी पहुंचे। बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, मंत्री रविंद्र जायसवाल, सांसद बीपी सरोज, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। 

    राष्ट्रपति बाबतपुर एयरपोर्ट से बरेका गेस्ट हाउस गए। कुछ देर विश्राम के बाद बरेका से राष्ट्रपति श्री काशी विश्वनाथ धाम पहुंचे। यहां पर सपरिवार षोडशोपचार विधि से दर्शन-पूजन किया। इसके बाद पूरे मंदिर परिसर का भ्रमण किया। शाम को वापस लखनऊ लौट गए। बीएलडब्लू गेस्ट हाउस से बाबा विश्वनाथ के दरबार जाते समय सड़क किनारे पटरी पर झुग्गियों में रहने वाले लोग राष्ट्रपति को न दिखें इसके लिए प्रशासन की ओर से भिखारीपुर-लंका मार्ग पर पर्दे लगवाए गए थे। राष्ट्रपति की आवाजाही के रूट से संबंधित सभी चौराहों और तिराहों पर बैरिकेडिंग कर सील कर दिए गए थे। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि राष्ट्रपति की सुरक्षा व्यवस्था में 11 आईपीएस को लगाया गया था। राष्ट्रपति के आवाजाही के रूट पर सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर 15 एडिशनल एसपी, 25 डिप्टी एसपी, 200 दरोगा-इंस्पेक्टर, 1500 पुलिस-महिला कांस्टेबल और पीएसी की तीन कंपनी के जवान तैनात किए गए थे। लोकल इंटेलिजेंस यूनिट को कहा गया था कि सूचना संकलन के साथ ही माहौल पर नजर रखने के काम में किसी भी स्तर पर चूक न होने पाए। शहर में राष्ट्रपति की आवाजाही वाले रूट पर बहुमंजिला इमारतों की छत पर रूफ टॉप फोर्स तैनात की गई थी। बनारस रेल इंजन कारखाना स्थित गेस्ट हाउस की ओर आमजन की आवाजाही पर रोक लगा दी गई थी। देश के प्रथम नागरिक के वाराणसी आगमन के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग भी हाई अलर्ट पर था। सीएमओ डॉ. संदीप चौधरी के अनुसार राष्ट्रपति के आगमन को देखते हुए बनारस रेल इंजन कारखाना, बीएचयू, मंडलीय अस्पताल और हरहुआ स्थित एक निजी अस्पताल में सेफ हाउस बनाए गए थे। 

    राष्ट्रपति के काफिले में अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस एंबुलेंस के साथ अनुभवी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की टीम तैनात की गई थी। वही नगर निगम की ओर से भी अभियान चलाकर अतिक्रमण हटाने के साथ ही छुट्‌टा पशुओं की धरपकड़ की गई। इसके साथ ही राष्ट्रपति की आवाजाही वाले रूट पर विशेष अभियान चलाकर साफ-सफाई कराई गई।

    Initiate News Agency (INA) , वाराणसी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.