Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मिश्रित\सीतापुर। किसी अज्ञात वाहन की टक्कर से मृत पड़ा मिला हिरन।

    संदीप चौरसिया 

    मिश्रित\सीतापुर। वन रेंज मिश्रित अंतर्गत मछरेहटा मिश्रित रोड पर पड़ने वाले विशालकाय धंधारी जंगल में वेतवा पुल के पास किसी अज्ञात वाहन से टकराकर एक हिरन की मृत्यु हो गई है। राहगीरों की सूचना पर रेंजर महमूद आलम व फारेस्टर एसएन शुक्ला ने मौके पर पहुंच कर मृतक हिरन के शव को अपने कब्जे में लिया  और राजकीय पशु चिकित्सालय मिश्रित लाकर मृतक हिरन का पोस्ट मार्टम कराकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया। विदित हो कि धंधारी जंगल कई एकड़ जमीन में फैला हुआ है लेकिन वन विभाग द्वारा इसमें पशु पक्षियों और जंगली जानवरों के लिए कोई झील वा सरोवर निर्मित नहीं कराया गया है जिससे वह उसमें पानी पी सके वर्तमान समय में पड़ रही इस भीषण गर्मी में जंगली जीव जंतु और जानवर पानी की तलाश में भटकते हुए  इधर उधर गांवों तक निकल जाते हैं। 

    इसीलिए रोड पार करते समय किसी वाहन का शिकार होकर हिरन काल के गाल में समा गया है। इसी तरह आए दिन जंगली जानवर इसी रोड पर वाहनों से टकराकर कालकलवित होते रहते चूंकि मामला हिरन की मृत्यु का था इसलिए वन कर्मियों ने उसका पोस्टमार्टम कराने की सक्रियता दिखाई अन्यथा आये दिन मरने वाले बनविलार,शियार लोमड़ी कुत्ते जैसे छोटे मोटे जानवर वाहनों से टकराकर काल के गाल में समाते रहते है जिनका कोई पुरुषाहाल नही दिखाई देता है हिरन की तरह उन्हें दफनाकर उनकी अन्त्येष्टि करना बहुत दूर की बात क्या ये पशु वन्य जीव की श्रेणी में नही आते जिनकी असमय दुर्घटना में होने वाली मृत्यु से वन विभाग के लोग क्यों बने रहते उदासीन और अन्जान? मुख्यमंत्री जी वन्यजीवों की असमय मृत्यु की तरफ भी विभागीय अधिकारियों को दीजिए कुछ निर्देश जिससे सड़कों पर दुर्घटना से मृतक हुए है पशुओं का भी हो सके अंतिम संस्कार और उनकी भी हो सके मृत्यु उपरांत सम्मानजनक अन्त्येष्टि की जाय।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.