Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज आलम ने की वार्ता।

    ........... एक तरफा कार्यवाही क्यों :लगाया आरोप

    कानपुर। विगत दिनों हुई हिंसा में कार्यवाही के नाम पर सिर्फ एक समुदाय विशेष के खिलाफ कार्यवाही से पुलिस की निष्पक्षता पर गंभीर सवाल उठे हैं उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज आलम, महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नौशाद मंसूरी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यालय तिलक हाल में वार्ता का आयोजन किया गया! प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज आलम ने कहा कि सोशल मीडिया पर दोनो वर्गों के अराजक तत्वों की संलिप्तता के पर्याप्त प्रमाण हैं। इस पक्षपातपूर्ण कार्यशैली से जहां निर्दोषों में भय व्याप्त है वहीं वास्तविक अपराधियों में यह संदेश गया है कि जो जब चाहे शहर का माहौल बिगाड सकते है। कांग्रेस अध्यक्ष नौशाद अलम मंसूरी ने बताया कि प्रतिनिधि मंडल पुलिस कमिश्नर  से मिलकर ज्ञापन सौंपा है हिंसा में शामिल दोना वर्गों के अराजक तत्वों के खिलाफ कार्यवाही की जाये।  

    हिंसा में शामिल लोगों के घरों की शिनाख्त की घोषणा की खबरों से आम निर्दोष लोगों में भय का माहौल है, क्योंकि अब तक की पुलिस कार्यवाही में आम निर्दोष लोग ही ज्यादा पकडे गये हैं, जिसके चलते आम लोग अपने घरों से पलायन कर रहे हैं। लोगों का विश्वास अर्जित करने के लिए ज्ञापन देने के बाद कमिश्नर विजय सिंह मीणा  ने प्रतिनिधि मण्डल को आश्वस्त किया है कि कोई बेगुनाह जेल नहीं भेजा जायेगा व एक पक्षीय कार्यवाही नहीं की जायेगी। निष्पक्ष जांच कराकर जो अराजक तत्व हैं उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। प्रतिनिधि मण्डल में प्रमुख रूप से शाहनवाज आलम, नौशाद आलम मंसूरी, संजीव दरियाबादी, मदन मोहन शुक्ला , तुफैल अहमद खान, सैमुअल सिंह, प्रदीप शुक्ला, फरहान लारी, मो० जावेद, इम्तियाज कुरैशी, लल्लन अवस्थी मौजूद रहे।

    इब्ने हसन ज़ैदी

    Initiate News Agency (INA) , कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.