Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ग़ाज़ीपुर। लेकर चली थी अस्पताल के लिए लेकिन एंबुलेंस के अंदर ही कराना पड़ा प्रसव।

    ग़ाज़ीपुर। 2012 में जब 108 एम्बुलेंस की शुरुआत की गई थी तब शायद सरकार भी नहीं सोची रही होगी कि आने वाले समय में 108 एंबुलेंस लोगों में इतनी लोकप्रिय हो जाएगी। मौजूदा समय में किसी भी तरह के एक्सीडेंट होने के मामले या फिर गर्भवती के प्रसव के मामले में तत्काल 108 एंबुलेंस को ग्रामीण फोन कर मौके पर बुला रहे हैं। कुछ ऐसा ही शुक्रवार को सदर ब्लाक के सकरा ग्राम सभा से एक फोन आया और बताया गया कि गर्भवती को प्रसव पीड़ा है। जिसके बाद पायलट और ईएमटी तत्काल बताए गए लोकेशन पर एंबुलेंस लेकर पहुंचे और थी गर्भवती को स्वास्थ्य केंद्र के लिए लेकर चल पड़े।

    108 एम्बुलेंस के ब्लॉक प्रभारी दीपक राय ने बताया कि सदर ब्लाक के ग्राम पंचायत सकरा की रहने वाली अर्चना पत्नी विजय कुमार जो गर्भवती थी। प्रसव पीड़ा हो रहा था जिसको लेकर इमरजेंसी मेडिकल टेक्निकल रामनाथ और पायलट वाहिद खान के द्वारा जिला महिला अस्पताल के लिए चले। लेकिन प्रसव पीड़ा बढ़ने के कारण रास्ते में ही एंबुलेंस के अंदर ईएमटी और परिवार की महिलाओं के सहयोग से प्रसव कराना पड़ा। जिसके पश्चात जच्चा और बच्चा को जिला महिला अस्पताल लाकर एडमिट कराया गया। जहां पर डॉक्टरों ने दोनों को स्वस्थ बतलाया।

    महताब आलम 

    Initiate News Agency (INA),  ग़ाज़ीपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.