Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    रायबरेली। डीएम ने की अस्पताल पहुंच जांच पड़ताल,सीएमएस को लगाई फटकार।

     ........ जिला अस्पताल में चार घण्टे बिजली गुल होने से आक्सीजन सप्लाई बाधित, दो मरीजो ने तोड़ा दम

    रायबरेली। सूबे की सरकार स्वास्थ्य सेवाओ को बेहतर बनाने के लिए लगातार प्रयास कर  रही है, लेकिन जिला अस्पताल प्रशासन सरकार की मंशा पर पानी फेरता नजर आ रहा है। रायबरेली जिला अस्पताल जो कि एक वीआईपी की श्रेणी में आता है जिसकी सेवाएं लगातार लचर बनी हुई है अपनी इन्हीं लचर सेवाओं के चलते आए दिन मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ती है। मंगलवार रात जिला अस्पताल में चार घंटों से बिजली ना होने के कारण वहां के ऑक्सीजन लाइन की व्यवस्था पूरी तरह से बंद हो गई है । 

    जिसके कारण एक ही वार्ड में भर्ती दो मरीजों ने ऑक्सीजन ना मिलने के कारण दम तोड़ दिया।आक्सीजन न मिलने से हुई मौतों के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। वहीं तीमारदार काफी आक्रोशित भी है और कहीं ना कहीं मौजूदा सरकार को कोसने का काम कर रहे हैं। जबकि सरकार की तरफ से जिला अस्पताल में ऑटोमेटिक जनरेटर भी मौजूद लेकिन जनरेटर में डीजल ना होने के कारण विद्युत आपूर्ति पूरी तरह से बाधित हो गई। जिसकी कीमत मरीजों को अपनी जान देकर चुकानी पड़ रही है।जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के बाद सक्रिय हुए जिला प्रशासन ने बुधवार सुबह अस्पताल पहुंचकर जांच-पड़ताल की जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव सिटी मजिस्ट्रेट ने पहुंचकर अस्पताल का निरीक्षण कर वहां के हालात का जायजा लिया इस दौरान जिलाधिकारी ने सीएमएस नीता साहू को कड़ी फटकार लगाई।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.