Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सम्भल। भ्रष्टाचार से तंग आकर महिला ने अनशन कर दी आत्महत्या की चेतावनी।

    .............2 साल से विरासत दर्ज कराने के लिये लगा रही चक्कर 

    उवैस दानिश/सम्भल। थाना धनारी क्षेत्र के गांव बायभूड निवासी महिला के कोई भाई न होने पर उसकी मां ने मरने से पूर्व महिला के नाम अपनी चल अचल संपत्ति की विरासत अपनी बेटी के नाम कर गयी थीं। जिसको लेकर महिला 2 साल से लगातार अधिकारियों के चक्कर लग रही है, परन्तु अभी तक विरासत दर्ज नहीं हो पाई है। महिला का आरोप है कि भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश का दावा सरकार ने किया है परन्तु इसके बाबजूद भी वह लगातार दो साल से तहसील परिसर के चक्कर लगा रही है। परन्तु कोई अधिकारी सुनवाई नहीं कर रहा है।

    इंद्रा यादव, पीड़ित

    थाना धनारी क्षेत्र के गांव बायभूड निवासी इन्द्रा यादव के कोई भाई न होने की बजह से उनकी मां रुमालों देवी निवासी वावेपुर तहसील चंदौसी ने अपनी चल अचल संपत्ति की वसीयत अपनी बेटी इंन्द्रा यादव के नाम मरने से पूर्व ही कर दी थी। मां की म्रत्यु के बाद इंद्रा यादव लगातार दो साल से तहसील परिसर के चक्कर लगा रही हैं। परन्तु उनकी वसीयत दर्ज नहीं हुई है। पीडिता ने एक मार्मिक अपील करते हुये क्षेत्र मे पंपलेट वितरित किये हैं जिसके अनुसार जहां एक तरफ सरकार की नीति प्रदेश को भ्रष्टाचार से मुक्त कर आम जनमानस तक न्याय पहुंचाना है वहीं तहसील चंदौसी का प्रशासन सरकार की मंशा पर पानी फेरने का कार्य कर रहा है। वह लगातार उच्चाधिकारियों के चक्कर लगा रहीं है परन्तु कोई सुनवाई नहीं हो रही है। 

    विरासत दर्ज करने के नाम पर उनसे पैसों की मांग की जा रही है। ऐसे में न्याय ना मिलने के चलते अंतिम विकल्प आत्महत्या ही हो सकता है। उन्होंने अधिकारियों के सामने एक दिन का सांकेतिक धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी भी दी।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.