Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। मानसून की पहली बारिश ने दी भीषण गर्मी से राहत, किसानों के चेहरे खिले, पालिका की सफाई व्यवस्था की खुली पोल, बच्चों ने लिया बारिश का आनंद।

    ............ किसानों ने कहा कि महंगे डीजल से धान की रोपाई करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा था।

    शिबली इकबाल/देवबंद। मानसून की पहली बारिश ने भीषण गर्मी से लोग को राहत दी है, बुधवार से आसमान में छा रहे काले बदल गुरुवार के तड़के से झमाझम बरसे जिसेसे मौसम सुहाना हो गया और पारा में गिरवाट आई, वही बारिश से किसानो के चेहरे खिल उठे। हालांकि मानसून की पहली बारिश में ही नगरपालिका परिषद की सफाई व्यवस्था चरमरा गई।कई दिनों की भीषण गर्मी के बाद झमाझम बारिश शुरू हो गई। इससे न सिर्फ लोगों को गर्मी से राहत मिली बल्कि बच्चों और युवाओं ने मानसून की पहली बारिश में सड़कों पर निकलकर इसका आनंद भी उठाया।वहीं, बारिश से किसानों के चेहरे भी खुशी से खिल उठे। एक पखवाड़े से पड़ रही भीषण गर्मी और चिलचिलाती धूप ने लोगों को घरों में कैद होने पर मजबूर कर दिया था। गुरुवार सुबह मौसम का मिजाज बदल गया। सुबह 6 बजे शुरू हुई झमाझम बारिश से मौसम सुहाना हो गया। वहीं, लंबे समय से बारिश का इंतजार कर रहे किसानों के चेहरे भी बारिश होती देख खुशी से खिल उठे। 

    किसानों ने कहा कि महंगे डीजल से धान की रोपाई करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा था। अब बारिश होने से जरूर राहत मिलेगी।उधर नगर पालिका परिषद देवबंद द्वारा बरसात से पहले नाले नालियों की सफाई कराने के सभी दावों की पहली ही बारिश ने पोल खोल दी। नगर की जहां दर्जनों सड़कें देर तक बारिश के पानी से लबालब नजर आई वहीं नालियां साफ न होने के चलते नेचलगड़, पठानपुरा, शास्त्री चोक, बढ़ियाउल हक, शाहजीलाल, ईद गाह रोड सहित दर्जनों स्थानो पर पानी की निकासी ना होने के कारण मोहल्लों में देर तक पानी भरा रहा। वही नगर के निचले इलाके पहली सी बारिश में लबालब नजर आए। बरसात की पहली बारिश से मौसम सुहाना हो गया और पारा में गिरवाट आने से लोगों ने राहत की सांस ली है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.