Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    वाराणसी। ज्ञानवापी के लिए अस्सी से वरुणा तक होगी कारसेवा की शुरुआत।

    ............ सभी महंत और तीर्थ पुरोहित शामिल होंगे : कुलपति तिवारी

    वाराणसी। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर के पूर्व महंत डॉ. कुलपति तिवारी ने रविवार को ज्ञानवापी के लिए कारसेवा का आह्वान किया। डॉ. कुलपति तिवारी ने कहा कि 15 जून के बाद अस्सी से लेकर वरुणा तक डमरू दल, शहनाई वादकों और शिव भक्तों के साथ नाव पर कारसेवा की शुरुआत की जाएगी। ललिता घाट पर पहुंचने के बाद मैं अपने आदिविश्वेश्वर को जल चढ़ाऊंगा और विधिविधान से उनकी पूजा करूंगा। उसके बाद आदिकेशव घाट स्थित वरुणा और गंगा के संगम तक जाऊंगा। फिर वापस दशाश्वमेध घाट लौट आऊंगा। इस कारसेवा में शहर की सड़कों पर कोई भीड़ नहीं इकट्‌ठा होगी। शिव भक्त ज्ञानवापी परिसर में जाकर पूजा-अर्चना करने की जिद करके अदालत की कार्रवाई में बाधा भी नहीं उत्पन्न करेंगे। सब कुछ शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न होगा।

    डॉ. कुलपति तिवारी ने कहा कि ज्ञानवापी परिसर विश्वेश्वरनाथ का है। वह शिव तीर्थ है वह ज्ञानोदक तीर्थ है वह आनंद वन है। भगवान आदि विश्वेश्वर वहां विराजमान हैं। जिस तरह से मुस्लिम भाई प्रथम तल पर नमाज पढ़ते हैं। उसी तरह से नीचे हमें पूजा करने का अधिकार है। यदि हमें पूजा न करने दिया जाए तो अदालत का फैसला आने तक ज्ञानवापी में उन्हें भी नमाज न पढ़ने दिया जाए। डॉ. कुलपति तिवारी ने कहा है कि मेरा उद्देश्य ज्ञानवापी परिसर में जाकर अदालत के आदेश की अवमानना करना नहीं है। मेरा लक्ष्य यह है कि जो शिवलिंग 350 साल से भी अधिक समय बाद सामने आया है। उसका राग-भोग, पूजा शृंगार अविलंब आरंभ होना चाहिए। अपना पक्ष रखने के लिए हमने शिव कारसेवा को जलमार्ग से निकालना तय किया गया है। कारसेवा में शामिल होने के लिए काशी के सभी मंदिरों के महंतों और तीर्थ पुरोहितों को आमंत्रित किया जाएगा। मिर्जापुर के तीर्थ पुरोहित और वहां के प्रमुख मंदिरों के महंत भी आमंत्रित किए जाएंगे। शिव कारसेवा जलयात्रा में पूरे मार्ग भर भक्तगण हर-हर महादेव शंभो काशी विश्वनाथ गंगे और चना चबेना गंग जल कर पुरवे करतार, काशी कबहुं न छाड़िए विश्वनाथ दरबार का गान करते चलेंगे। डॉ. कुलपति तिवारी ने कहा कि बहन का निधन होने के कारण कोलकाता जा रहा हूं। वहां से वापस लौटते ही शिव कारसेवा के आयोजन की कार्ययोजना को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

    Initiate News Agency (INA) ,वाराणसी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.