Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। ईसा फाउंडेशन गुजरात की और से देवबंद में कराए गए 50 गरीब जोडों के निकाह।

    ............. नई जिन्दगी शूरू करने पर दुल्हा दुल्हन को उलेमा ने दी बधाई

    देवबंद। ईसा फाउंडेशन गुजरात व जामिया फैजुल कुरान अहमदाबाद की और से सामूहिक निकाह कार्यक्रम के तहत 50 गरीब जोडों के निकाह सुन्नत के तरीके से कराए गए और सभी जोडों को घरेलू जरूरत का सामान देकर उन्हे नई जिन्दगी शूरू करने पर उलेमा ने बधाई दीं।रविवार को कासिमपुर रोड स्थित हीरा गार्डन में गुजरात के सामाजिक संगठन ईसा फाउंडेशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुऐ दारूलउलूम देवबंद के नायब मोहतमिम मुफ्ती राशिद आजमी ने निकाह की अहमियत का प्रकाश डालते हुए सभी नए जोडों को मुबारकबाद दी और तमाम दुल्हो को इस बात पर सख्त हिदायत दी कि वह अपनी बीवियों के साथ अच्छा सलूक करें। उन्होने कहा कि निकाह एक अजीम सुन्नत है और खेर व भलाई वाला काम है।

     निकाह कराते मौलाना

     उन्होने दहेज की बुराईयों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि निकाह को आसान तरीके और सादगी से करने का रिवाज देने को आम करने की जरूरत है। कार्यक्रम का संचालन कर रहे मौलाना महबूब उर रहमान कासमी अहमदाबाद ने बताया कि देवबंद और उसके आस पास के क्षेत्र के 50 जोडों के निकाह घरेलू जरूरी सामान और 10 हजार रूपये मेहर के साथ किए गये है जबकि चार निकाह बगैर किसी सामान के आसान व सादगी से किए गये है।उन्होने बताया कि फाउंडेशन की ओर से सभी 50 जोडों को कुरान शरीफ, एक बेड, गददे, तकिये कंबल, सिलाई मशीन, डिनर सेट, वाटर कुलर, बाथरूम सेट, किचन सेट, कुर्सी, पंखा, अटैची बैग, अलमारी और दोनो (पति-पत्नी) के कपडों के साथ सभी घरेलू सामान दिया गया है। फाउडेंशन के उपाध्यक्ष अल्लामा खलील अहमद फजल ने बताया कि फाउंडेशन की और से लगातार लोगों की सेवा और नेक व भलाई के काम किए जाते है। देवबंद में आयोजित सामूहिक निकाह कार्यक्रम भी उसी का एक हिस्सा है। उन्होने बताया कि फाउंडेशन की और से गरीब बच्चों के निकाह का कार्यक्रम लगातार जारी है जो भविष्य में भी चलता रहेगा। 

     व निकाह के दौरान दिया गया घरेलू सामान

    कार्यक्रम में सभी जोडों के निकाह मुफ्ती राशिद आजमी ने पढाए। इस अवसर पर मौलाना आरिफ यूसुफ देवला गुजरात, मौलाना हसन हबीब अहमद अहमदाबाद गुजरात, मौलाना इस्माइल थानवी, मौलाना तौकीर कासमी दारूलउलूम देवबंद, मुफ्ती इनामुल हक कासमी, मौलाना नौशाद नूरी,मौलाना अमानत अली और मुफ्ती नोमान आदि सहित बडी संख्या में दुल्हा व दुल्हन के रिश्तेदार व घर वाले मौजूद रहे।

    शिबली इकबाल

    Initiate News Agency (INA), देवबंद

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.