Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया\बिहार। अफसर प्रशिक्षण अकादमी, गया में 21वी पासिंग आउट परेड का हुआ आयोजन।

    गया\बिहार। अफसर प्रशिक्षण अकादमी, गया ने अपनी पासिंग आउट परेड के अवसर पर पारंपरिक लिबास से  सुसज्जित था,  इस पासिंग आउट परेड में टेक्निकल एंट्री स्कीम(TES) क्रमांक संख्या  39  के कुल 62 अधिकारी जिसमें कुल 8 अधिकारी मित्र देशों के भी शामिल थे और साथ ही स्पेशल कमीशन अधिकारी पाठ्यक्रम( एससीओ) क्रमांक संख्या 48 के दो अधिकारी पास आउट हुए ।टीईएस 45 कोर्स के 45 जेंटलमैन कैडेटों ने भी इस परेड में भाग लिया, जो इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त करने के लिए विभिन्न आर्मी कैडेट ट्रेनिंग विंग्स जैसे मिलिट्री कॉलेज ऑफ इलेक्ट्रॉनिक एंड मैकनिकल इंजिनिरिग, सिकंदराबाद मिलिट्री कॉलेज ऑफ  टेलीकम्युनिकेशंस इंजीनियरिंग, मऊ एवं कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग, पुणे जाते हैं । जैंटलमैन कैडेटस  ने अपने स्मार्ट टर्नआउट और सटीक    सिंक्रोनाइज्ड  ड्रिल मूवमेंट से  सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। 

    लेफ्टिनेंट जनरल जेएस नैन,  परम विशिष्ट सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल, सेना मेडल,  एड्-डी -कैंप,  जनरल ऑफिसर कमांडिंग- इन- चीफ, दक्षिणी कमान, परेड के समीक्षा अधिकारी थे। पासिंग आउट टेक्निकल एंट्री स्कीम कोर्स के सभी दौर में सर्वोत्तम प्रदर्शन करने जेंटलमैन कैडेट आयुष बरगोटी को प्रतिष्ठित स्वॉर्ड  ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया तथा पासिंग आउट टेक्निकल एंट्री स्कीम कोर्स में मेरिट के क्रम में प्रथम आने वाले जैंटलमैन कैडेट सुशांत संजय पाटिल को गोल्ड मेडल से सम्मानित कि टीथवाल  कंपनी को कंपनी के रूप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए स्प्रिग टर्म  2022 का चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ के बैनर से सम्मानित किया गया। परेड को संबोधित करते हुए समीक्षा अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल जे एस नैन ने  जेंटलमैन कैडेटो  को उनके उत्कृष्ट ड्रिल के लिए बधाई दी । उन्होंने भविष्य के अधिकारियों से निस्वार्थ, समर्पित और विद्वान योद्धा होने के महत्व पर जोर दिया, जो युद्ध के मैदान पर असंख्य चुनौतियों के बावजूद अपनी श्रेष्ठ और अभिनव  युद्ध कुशलता के दम पर विरोधियों से आगे रहे और बेहतर प्रदर्शन कर सकें । उन्होंने पासिंग  आउट कोर्स को संबोधित करते हुए  कहां की  बे अपनी तकनीकी कौशल को बढ़ाकर युद्ध की तेजी से बदल रहे स्वरूप के लिए खुद को और अपनी कमान हेतु अपने सैनिकों को तैयार करें। 

    अकादमी गुणवत्तापूर्ण सैन्य  प्रशिक्षण प्रदान कर रही है । मित्र देशों जैसे भूटान, श्रीलंका, लाओ,  पीडीआर और वियतनाम के जैंटलमैन कैडेट अपने राष्ट्रीय सेनाओं के सफल सैन्य  नेता बनने के लिए यहां आते हैं,  अकादमी में साथी जैंटलमैन कैडेटस  का मिलनसार व्यवहार इन राष्टों  के बीच लंबे समय तक सद्भावना बनाए रखेगी। अफसर प्रशिक्षण  अकादमी गया की स्थापना 18 जुलाई 2011 को शौर्य  ज्ञान संकल्प के आदर्श  वाक्य के साथ हुआ था । वर्तमान में  अकादमी टेक्निकल एंट्री स्कीम और स्पेशल कमीशन ऑफिसर कोर्स के लिए प्रशिक्षण आयोजित करती है,  पीसीएस पाठ्यक्रम के लिए जेंटलमैन कैडेट् भौतिक विज्ञान रसायन विज्ञान और गणित के साथ अपनी 10 + 2 की परीक्षा पूरी करने के बाद और जेईई मेंस में  उत्तीर्ण होने के बाद एक आदमी में प्रवेश पाते हैं, एससीओ जेंटलमैन कैडेटों का चयन भारतीय सेना के रैंकों के लिए किया जाता है।

    प्रमोद कुमार यादव

    Initiate News Agency (INA), गया बिहार

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.