Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। कानपुर यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन समारोह पी0पी0एन0 कालेज कानपुर में सम्पन्न।

    इब्ने हसन ज़ैदी/कानपुर। (AIFUCTO के महासचिव प्रो. अरूण कुमार के लगातार चौथी बार निर्वाचित होने पर उ०प्र० विश्वविद्यालय महाविद्यालय शिक्षक महासंघ (FUPUCTA) एवं कानपुर यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन (KUTA) द्वारा अभिनन्दन समारोह  पी0पी0एन0 कालेज कानपुर में सम्पन्न हुआ। अभिनन्दन समारोह में AIFUCTO के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा० विवेक द्विवेदी, जोनल सेक्रेटरी डा० मोजपाल सिंह (मेरठ विश्वविद्यालय) FUPUCTA के अध्यक्ष डा० वीरेन्द्र सिंह चौहान (आगरा विश्वविद्यालय) सहित प्रदेश भर के विश्वविद्यालय इकाइयों के अध्यक्ष एवं मंत्री विशेष रूप से आगरा, बरेली, गोरखपुर, फैजाबाद विश्वविद्यालयों ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए प्रो. अरूण कुमार ने राष्ट्रीय स्तर पर नई शिक्षा नीति लागू होने से उपजी चुनौतियों पर विस्तार से चर्चा की और नई शिक्षा नीति की नीतिगत खमियों का जिसमें विशेष रूप से शिक्षकों के आमेलन एवं उनकी सेवा शर्तो में सुधार की आवश्यकता पर बल दिया।

    AIFUCTO के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा० विवेक द्विवेदी ने शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सबसे बड़ा प्रदेश एवं AIFUCTO का जन्म स्थान होने के कारण भी प्रदेश के शिक्षकों ने शिक्षक आन्दोलन में सदैव महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होने बताया कि 3rd अगस्त, 2022 को शिक्षक हित की राष्ट्रीय समस्यो के समाधान हेतु संसद भवन को घेराव करेगें। उन्होने प्रदेश के शिक्षकों को प्रोफेसर पदनाम देने हेतु पूर्व शिक्षामंत्री एवं उपमुख्यमंत्री प्रो० दिनेश शर्मा का आभार व्यक्त किया और आशा की है कि प्रदेश की लोकप्रिय सरकार प्रोफेसर पदनाम की कट आफ डेट परिवर्तित करने पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी। पुरानी पेंशन की बहाली, सेवानिवृत्ति की आयु 65 वर्ष करने इत्यादि महत्वपूर्ण मांगो पर अनवरत संघर्ष करने का संकल्प दोहराया। संगठनात्मक विषयों पर चर्चा करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि FUPUCTA के चुनाव शीघ्र ही सम्पन्न करा लिया जाएगा। AIFUCTO के जोनल सेक्रेटरी डा० मोजपाल सिंह ने उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखण्ड में चल रही शिक्षक गतिविधियों पर तथ्यात्मक रिपोर्ट प्रस्तुत की।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.