Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। जल संरक्षण को लेकर मेक इन इंडिया के तहत कानपुर के अंबेडकर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की छात्राओं ने एक डिवाइस तैयार किया।

    कानपुर। देश में गिरता भू- जल स्तर चिंता का बड़ा विषय है पेय जल की तेजी से हो रही कमी के चलते केंद्र सरकार लगातार लोगों से जल की बर्बादी रोकने की अपील कर रही है वही जल संरक्षण को लेकर मेक इन इंडिया के तहत कानपुर के अंबेडकर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की छात्राओं ने एक डिवाइस तैयार की है जो ना सिर्फ पानी की बर्बादी को रोकेगी बल्कि उपजाऊ फसल के लिए मिट्टी को कितने पानी की आवश्यकता है वह भी पूरी जानकारी देगा इस प्रोजेक्ट को बनाने वाली तीन छात्राओं ने हिन्दी खबर से खास बात करते हुए बताया कि जल संरक्षण करना बेहद जरूरी है क्योंकि जल है तो कल है छात्राओं की शोध की वजह यह रही थी अक्सर देखा जाता है कि पेड़ों में पानी देने के बावजूद वह जल जाते हैं और पूरी तरह नष्ट हो जाते हैं इसके पीछे के कारण को जानने के लिए छात्राओं ने रिसर्च की तो पता चला कि यदि पेड़ों में अधिक पानी डाला जाए तो वह भी नुकसानदायक होता है खास तरीके से बनाई गई इस डिवाइस का काम यह है कि डिवाइस मिट्टी में कितने प्रतिशत नमी पेड़ पौधों के लिए फायदेमंद होगी इसकी पूरी जानकारी देगी इस डिवाइस को बनाने में ₹2000 का खर्चा आया है फिलहाल छात्राएं प्रयास कर रही है कि कम से कम रुपयों में इस बेहतर डिवाइस को तैयार किया जाए ताकि पेड़ लगाने वाले लोग इसे खरीद सके और किसानों के लिए भी इसे खरीदना बेहद आसान हो शोध करने वाली छात्राओं का दावा है कि इस डिवाइस से खेतों की सिंचाई के लिए कितने जल की आवश्यकता है उसकी पूरी जानकारी मिल जाएगी मतलब साफ है कि डिवाइस से पानी की बचत तो होगी ही साथ ही बेहतर फसल पाकर किसानों को भी बहुत फायदा होगा।

    शोध करने वाली छात्रा शिवानी ने बताया कि जल है तो कल है इस सोच को आगे बढ़ाते हुए मेक इन इंडिया के तहत उनके द्वारा यह डिवाइस बनाई गई है इस डिवाइस को बनाने में शिवानी के साथ-साथ हिमांशी ने भी बड़ा योगदान दिया है तीन छात्राओं के पैनल ने विभाग के एचओडी आशुतोष मिश्रा की देखरेख में यह डिवाइस तैयार की है इसके बाद छात्राओं का दावा है कि जल संरक्षण के साथ ही यह डिवाइस किसानों के लिए वरदान साबित होगी।

    कॉलेज के हेड ऑफ डिपार्टमेंट डॉक्टर मनीष राजपूत ने बताया जल संरक्षण के तहत लगातार केंद्र सरकार लोगों से पानी बचाने की अपील करती है गिरते जल स्तर को लेकर जहां सभी चिंतित है तो ऐसे में पानी को कैसे बचाया जाए इसको लेकर केमिकल इंजीनियरिंग की छात्राओं ने शोध किया है यह डिवाइस जल संरक्षण के लिए और उपजाऊ फसल के लिए वरदान साबित होगी।

    इब्ने हसन ज़ैदी

    Initiate News Agency (INA) , कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.