Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। भटटा मालिकों की बैठक का हुआ आयोजन,

    ............ अगर सरकार ने जीएसटी में कमी और कोयले को सस्ता नही किया तो बंद हो जाएगें भटटें।

    देवबंद। ब्रहस्पतिवार को ईंट का निर्माण करने वाले भटटा मालिको की एक बैठक का आयोजन सांपला रोड स्थित एक भटटे पर किया गया। बैठक में भटटा मालिकों ने कहा कि जीएसटी और कोयले की कमी के चलते भटटा व्यवसाय बंदी के कगार पर पहुंच गया है। सरकार ने यदि जीएसटी में कमी और सस्ते कोयले की व्यवस्था नही कराई तो भटटो पर पूर्ण रूप से बंद कर दिया जाएगा। यदि ऐसा होता है तो घर के निर्माण की कल्पना ही असंभव है।

    भटटा मालिकों की बैठक को सम्बोधित करते वक्ता

    सहारनपुर ईंट निर्माता समिति की एक बैठक का आयोजन सांपला रोड पर संतरपाल सिंह के भटटे पर आयोजित की गई। जिसमें सभी भटटा मालिकों ने एक राय होकर कहा कि कोयले की मंहगाई व बढी जीएसटी की दर से भटटा व्यवसाय आर्थिक रूप से समाप्त हो गया है। इसलिए वर्ष 2022-23 में भटटों को पूर्ण रूप से बंद करने के अलावा कोई चारा नही होगा। कहा कि यदि सरकार रियायती दरों पर कोयला व जीएसटी में दर कम नही करती तो अगले वर्ष भटटा मालिक भटटा चलाने की स्थिति में नही होगें, सभी भटटा मालिकों ने संयुक्त रूप से एक स्वर में भटटा बंद करने का निर्णय लिया है। बैठक में संतरपाल सिंह, श्रवण शर्मा, राकेश जैन, अरूण राणा, हाजी जीमल, अजय चैधरी, चैधरी सेठपाल, ओमवीर सिंह, मो0 मुनीर,  मो0 आबाद, सुनील कुमार, चमन लाल, आस मोहम्मद, मो0 हुसैन, सतीश कुमार, राजेश कुमार, अर्जून सिंह, कृष्णपाल सिंह, अनीस अहमद, सोनू कुमार, आशुतोष गुप्ता, राजेन्द्र कंसल, सहित देवबंद, नागल क्षेत्र के सभी भटटा व्यवसायी मौजूद रहे। उन्होने बताया कि इस सम्बंध में आगामी बैठक का आयोजन 16 मई को नानौता में आयोजित की जाएगी जिसमें गंगोह, रामपुर के भटटा व्यवसायी मौजूद रहेगें।

    शिबली इकबाल

    Initiate News Agency (INA), देवबंद

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.