Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बलिया। गंगा किनारे चल रही बाढ़ खण्ड की पांच परियोजनाओं का किया स्थलीय निरीक्षण।

    .......... कटानरोधी कार्य की रफ्तार में लाएं तेजी: कमिश्नर

    .............  चेताया, कार्य में विलम्ब के चलते नुकसान हुआ तो मुकदमे के साथ होगी रिकवरी

    बलिया। मंडलायुक्त विजय विश्वास पंत ने गुरुवार को बैरिया क्षेत्र में बाढ़ विभाग की चल रही परियोजनाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान कुछ प्रोजेक्ट के कार्य की रफ्तार काफी धीमी होने पर नाराजगी व्यक्त की। अधिशासी अभियंता को चेतावनी दी कि संबंधित ठेकेदार के माध्यम से कार्य में तेजी लाई जाए, अन्यथा की दशा में जिम्मेदारी तय करते हुए सभी दोषियों पर कठोर दंडात्मक कार्रवाई होगी।

    सुघर छपरा परियोजना के निरीक्षण के दौरान कहा कि यहां कार्य ज्यादा बचा है और रफ्तार उस हिसाब से नहीं है। ऐसे में 30 जून तक कैसे काम पूरा होगा। सख्त लहजे में कहा कि लेबर व संसाधन बढ़कर तेजी से कार्य कराएं। सोनार टोला परियोजना के सम्बंध में पूछताछ में एक्सईएन संजय मिश्र ने बताया कि फिलहाल इतना कार्य हो चुका है कि अचानक तीन मीटर भी जलस्तर बढ़ा तो कोई दिक्कत नहीं होगी। काम जारी रहेगा। लेबर की संख्या कम होने पर सवाल किया। कहा, लेबर की संख्या बढ़ाकर तेजी से कार्य कराएं, अन्यथा बरसात शुरू होने या जलस्तर बढ़ने पर समस्या हो जाएगी। अगले दो-दिन में नीचे से तीन लेयर का कार्य हो जाना चाहिए।

    उन्होंने साफ कहा कि समयसीमा का विशेष ध्यान रखा जाए अन्यथा पानी आ जाने के बाद यह सभी काम बेकार हो जाएंगे। मैंने कहा कि अब तक का जो उच्चतर जलस्तर यहां आया है, उसको देखते हुए काम कराया जाए और उस ऊंचाई तक सुरक्षित कर लिया जाए। गोपालपुर में हो रहे कार्य से संतुष्ट दिखे और 15 जून तक हरहाल में काम पूरा कर लेने के निर्देश दिए। 

    • दूबेछपरा व जगदीशपुर के कार्य की रफ्तार पर असंतोष, दी चेतावनी

    दुबे छपरा रिंग बंधे के पास की परियोजना में कार्य ठप होने पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने चेतावनी देते कहा कि ठेकेदार के माध्यम से कार्य में तेजी लाएं, अन्यथा 15 दिनों बाद अगर कार्य की रफ्तार ऐसी ही रही तो संबंधित ठेकेदार पर अपराधिक मुकदमा होने के साथ बाढ़ में हुए नुकसान की वसूली भी की जाएगी। वहीं, जगदीशपुर में पर्क्युपाइन विधि से हो रहे कार्य और लांचिंग एप्रन कार्य को देखा। यहां के उच्चतम जलस्तर व प्रोजेक्ट से जुड़ी जानकारी ली। यहां 1 लाख 10 हजार जिओ बैग पड़ने हैं, जिसमें अभी 15 हजार के आसपास भी नहीं लगी थी। इस पर नाराजगी जताई और तत्काल तेजी लाने की चेतावनी दी। 

    • बीएसटी बंधे की सुरक्षा से जुड़ी मिली गम्भीर शिकायत

    कमिश्नर के निरीक्षण के दौरान स्थानीय लोगों ने शिकायत किया कि बीएसटी बंधे के चौड़ीकरण में बंधे के नीचे की मिट्टी काटकर ऊपर भरा गया है। तलहटी में जंगली जानवर मांद/बिल किए हैं, जिससे बाढ़ में बंधे को नुकसान होने स्वाभाविक है। एक्सईएन ने बताया कि इसके लिए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को नोटिस भेजा गया है। यह भी बताया गया कि बीएसटी बंधे पर करोड़ों की लागत से वृक्षारोपण कराया गया था, उसे भी बर्बाद कर दिया गया है। कमिश्नर से बीएसपी बंधे से जुड़ी शिकायतों के संबंध में जांच कर पूरी रिपोर्ट देने का निर्देश सीडीओ प्रवीण वर्मा को दिया। इस दौरान सीआरओ विवेक श्रीवास्तव, एसडीएम आत्रेय मिश्र, आपदा विशेषज्ञ पीयूष सिंह सहित अन्य अधिकारी साथ थे।

    सैय्यद आसिफ़ हुसैन जै़दी

    Initiate News Agency (INA), बलिया 


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.