Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। लोक अदालत में 4 हजार 383 केसों में से 2 हजार 286 केसों का हुआ निपटारा।

    ............ जिला की तीनों अदालतों में किया गया राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन

    पलवल। जिला की तीनों अदालतों पलवल, होडल व हथीन में राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवाएं प्राधिकारण पलवल के अध्यक्ष पुनीश जिंदिया के दिशा-निर्देशन तथा मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण पलवल के सचिव कुनाल गर्ग की देखरेख में राष्ट्रीय लोक अदालत में केसों के निपटान हेतू जिला न्यायालय पलवल, होडल एवं हथीन की अदालतों में राष्ट्रीय लोक अदालतें लगाई गई। इन लोक अदालतों में कुल 4 हजार 383 केसों में से 2 हजार 286 केसों का निपटारा किया गया।

    जिला एवं सत्र न्यायाधीश पुनीश जिंदिया ने कहा कि नालसा की हिदायतानुसार केस की विभिन्न तारीखों से लोगों को छुटकारा दिलाकर एक ही दिन केस को निपटाने का प्रयास किया जाता है। वैवाहिक संबंधी मामलों की सुनवाई में लोक अदालत के दौरान आमने-सामने बैठकर आपसी मन-मुटाव को दूर करने व केस को निपटाने का प्रयास किया जाता है। कोट तथा हालसा व नालसा के माध्यम से लोगों को राष्ट्रीय लोक अदालत में आपसी राजीनाम व सहमति से केसों को निपटाने के लिए जागरूक किया जाता है। जिन लोगों के केस अदालत में लंबित है और वे अपना केस आपसी सहमति से निपटाना चाहते हैं। ऐसे में वह व्यक्ति अपना केस राष्ट्रीय लोक अदालत के सुनवाई करने के लिए निवेदन कर सकता है। राष्ट्रीय लोक अदालत में वाहन दुर्घटना मुआवजा, बैंक वसूली, राजीनामा योग्य फौजदारी मामले, बिजली एवं पानी के बिल संबंधी मामले, श्रम विवाद, सभी प्रकार के पारिवारिक विवाद, चैक बांउस, राजस्व मामले आदि को रखा गया।पुनीश जिंदिया ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में विवादों को सुलह एवं समझौते के आधार पर निपटाने के प्रयास किए गए, जिसके चलते राष्ट्रीय लोक अदालतों में पारिवारिक मामलों में 37 मे से 20 मामलों को सहमति से निपटाया गया। फौजदारी के 142 मामलों में से 84 मामलों का निपटारा हुआ। चैक बाउंस के 73 मे से 16 मामले आपसी सहमति से निपटाए गए। वाहन दुर्घटना के 73 मामलों में से 16 मामलों को निपटाया गया। बैंक वसूली के 1495 मामलों मे से 44 मामले निपटाए गए। इसी प्रकरा 169 अन्य दीवानी मामलों में से 114 मामले निपटाए गए। इस राष्ट्रीय लोक अदालत में मोटर व्हीकल एक्ट/बिजली चोरी के 1559 मामलों की भी सुनवाई की गई। 

    ऋषि भारद्वाज

    Initiate News Agency (INA), पलवल

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.