Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। अंतराग्नि'21 उद्घाटन समारोह।

    कानपुर। महामारी के दो कठिन वर्षों के बाद, IIT कानपुर का बहुचर्चित सांस्कृतिक उत्सव, अंतराग्नि अत्यंत जोश और उत्साह के साथ ऑफ़लाइन मोड में शुरू हुआ। उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता  अवनीश अवस्थी, अपर मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश सरकार ने की | समारोह की शुरुआत आउटरीच सभागार में सुबह 11:00 बजे दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुई, जो अप्रत्यक्ष रूप से अंतराग्नि को चिह्नित करता है। अत्यंत विचारोत्तेजक पैनल द्वारा कई अविस्मरणीय भाषण दिए गए। 

    संस्थान के निर्देशक  अभय करंदीकर के भाषण से सभी श्रोतागण उत्साहित हुए। उन्होंने आशा की कि यह उत्सव लोगों को शिक्षा के अतिरिक्त अन्य क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर प्रदान करेगा और उन्होंने महोत्सव का उद्घाटन करने के लिए  अवनीश  को धन्यवाद दिया क्योंकि इसकी शुरुआत के लिए हमारे इस पूर्व छात्र से बेहतर और कौन हो सकता था।

    कार्यक्रम के सम्मानीय मुख्य अतिथि, अवनीश अवस्थी ने आईआईटी कानपुर में अपने जीवन की यादगार कहानियों को साझा करते हुए बताया कि कैसे उन्होंने अपने बहुमुखी चरित्र का निर्माण किया। इसी कड़ी में "इंटरनेशनल कार्निवल" में प्रसिद्ध जादूगर, ब्रेंडन पील ने अपनी अनूठी बुद्धि और जादू से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया, उनके बाद असाधारण कलाकार एकातेरिना एर्मिलकिना हमें रंगों की दुनिया में ले गयी और सिर्फ 15 मिनट में एक अतिसुन्दर चित्र बनाया। 

    उत्सव के अगले चरण में भारत की सबसे बड़ी फ्यूजन और पूर्वी रॉक प्रतियोगिता- जूनून आयोजित हुई|  प्रीलिम्स क्वालिफायर द्वारा अपने प्रदर्शन के अंतिम सेट में दिखाए गए ताल और सामंजस्य के संयोजन से सभी दर्शक अचंभित थे|  इन फ्यूज़न रॉक्स ने दर्शकों को संगीत की कम खोजी गई भूमि में भ्रमण कराया और उन्हें अपने पैरों को ताल में बजाने पर मज़बूर किया।

    इंडिया इंस्पायर्ड कार्यक्रम में, हम डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन, मुख्य आर्थिक सलाहकार,भारत सरकार की उपस्थिति से गौरवान्वित हुए। उन्होंने भारत और सिंगापुर के कई बिजनेस स्कूलों के अपने शिक्षक जीवन के अनुभवों और अपने सत्रह साल से अधिक के कॉर्पोरेट करियर के कई गुरों को साझा किया| निश्चित रूप से आर्थिक क्षेत्र में उनकी विशेषज्ञता ने युवाओं के मस्तिष्क पर गहरी छाप छोड़ी। 

    कार्यक्रम की अगली कड़ी "संगम" में प्रतिभागियों के बीच संगीत की अच्छी प्रतिस्पर्धा देखने को मिली, जहां देश के विभिन्न राज्यों के विभिन्न प्रतिभागियों ने  गौरवशाली पारंपरिक धुनों के साथ अपनी प्रस्तुतियाँ दी।अंतराग्नि के अगले कार्यक्रम में नृत्य प्रतियोगिता "डांस बैटल" की शुरुआत हुई | यह एक एकल नृत्य प्रतियोगिता थी जिसमें हर प्रतिभागी ने अपनी  सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुति निर्णायकों के समक्ष प्रस्तुत की|  देश के कुछ सबसे अच्छे नृत्यकों को अपने नृत्य कलाओं के साथ निर्णायकों को मंत्रमुग्ध करते हुए खिताब जीतने के लिए प्रतिस्पर्धा करते देखा गया। नृत्यांगना में, शास्त्रीय एकल प्रतियोगिता के निर्णायक बिजल हरिया और डी पद्मकुमार ने बताया कि प्रतिभागियों का प्रदर्शन बहुत ही उच्च स्तर का था और एक विजेता का चयन करना बहुत मुश्किल था। शाम को कवि सम्मेलन में सोनरूपा विशाल, अजहर इकबाल, सुदीप भोला और एकग्र शर्मा का प्रदर्शन अविस्मरणीय था क्योंकि युवाओं में कविता और ग़ज़ल के लिए अभूतपूर्व उत्साह देखा गया। 

    दिन का मुख्य आकर्षण भारत के प्रमुख एक्सपेरिमेंटल इंडी रॉक बैंड, दिल्ली इंडी प्रोजेक्ट द्वारा उत्सव का पहला सेलिब्रिटी प्रदर्शन था। मंत्रमुग्ध कर देने वाले संगीत कार्यक्रम के प्रति दर्शकों का उत्साह देखते ही बनता था|  बैंड ने दर्शकों के पसंदीदा गानों जैसे रहनुमा, गुजारिश और ये दिल्ली है मेरी के साथ एक दमदार परफॉर्मेंस दी।

    पहले दिन का समापन एक लाइव पोएट्री स्लैम के साथ हुआ | यह एक शब्द कविता प्रतियोगिता थी, जिसमें कई पूर्व छात्रों ने अपने कॉलेज के दिनों को साहित्य के माध्यम से याद किया। पूर्व छात्रों का यह कार्यक्रम वाकई दिल छू लेने वाला था। 

    इब्ने हसन ज़ैदी

    Initiate News Agency (INA) , कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.