Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। हर्षोल्लास के साथ मनाया गया महाशिवरात्रि का पर्व - बम-बम भोले के जयकारों के गूंजे शिवालय

    ........... सुबह छह बजे से ही मंदिरों में भक्तों का तांता लग गया।

    ........ श्रद्धालुओं ने भगवान शिव का जलाभिषेक कर अपने व्रत का शुभारंभ किया

    पलवल। जिले के  मंदिरों में महाशिवरात्रि पर्व के उपलक्ष्य में विशेष पूजा-अर्चना की गई। सबसे ज्यादा भीड़ एतिहासिक पंचवटी मंदिर व जंगेश्वर महादेव मंदिर में देखी गई। मंदिरों के बाहर प्रसाद, फूल व अन्य सामान की जमकर बिक्री हुई। महाशिवरात्रि पर्व के अवसर पर मंगलवार को शहर के पंचवटी मंदिर, जंगेश्वर महादेव मंदिर, खोंटा मंदिर, श्रीलक्ष्मी नारायण मंदिर, सनातन धर्म मंदिर, भूरा गिरी मंदिर सहित गांवों में स्थित मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहा है। भक्तों ने भगवान शिव की पूजा-अर्चना कर व्रत का शुभारंभ किया। श्रद्धालुओं ने भगवान शिव का जलाभिषेक कर अपनी व अपने परिवार की सुख-समृद्धि की कामना की। 

    पंचवटी मन्दिर में पूजा करने पहुंचे भक्त देविंद्र अधाना और राकेश भारद्वाज बताया कि हिंदू पंचांग के अनुसार फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को भगवान शिव की आराधना, तपस्या और श्रद्धा से महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। महाशिवरात्रि पर उपवास और पूजा से भगवान शिव को प्रसन्न किया जाता है। महाशिवरात्रि पर भगवान शिव का अभिषेक करने का विशेष महत्व होता है। महाशिवरात्रि के दिन  शिवलिंग पर भांग, धतूरा, बेलपत्र, बेर, दूध, दही, गंगाजल चढ़ाकर भक्त पूजा-अर्चना करते हैं। आज के दिन भोले बाबा और पार्वती जी का मिलन हुआ था। पुराने समय से ही इस पर्व की यही आस्था रही है।

    पंचवटी मंदिर के महंत ऋषि दास महाराज ने बताया कि महाशिवरात्रि पर्व को लेकर मंदिर में विशेष तैयारी की गई है। मंदिर को भव्य तरीके से सजाया गया है। मंदिर में विशेष प्रसाद तैयार किया गया है। कोरोना नियमों की पालना के लिए भक्तों को कहा जा रहा है।

    ऋषि भारद्वाज

    Initiate News Agency (INA), पलवल  

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.