Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कासगंज। 50,000 का शातिर इनामी मुजरिम गिरफ्तार।

    कासगंज। जनपद कासगंज जीआरपी व आगरा एसटीएफ को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है, दोनों ही टीमों ने संयुक्त रूप से बीते 10 साल से फरार चल रहे 50 हजार के इनामी एक शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया है, फिलहाल पुलिस ने पकड़े गए आरोपी को संबंधित धाराओं में जेल भेजने की कार्रवाई की है।

    दरवेश कुमार (  क्षेत्राधिकारी, जीआरपी कासगंज )

    बतादें कि जनपद फर्रुखाबाद के गांव अमृतपुर का रहने वाले नेत्रपाल ने बीते वर्ष 2007 में गांव के ही राजनारायण की हत्या कर दी थी, और इस मामले में नेत्रपाल जेल भेजा गया था, इस मामले में नेत्रपाल को न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी, जिसके चलते नेत्रपाल जनपद फर्रुखाबाद की जिला जेल में सजा काट रहा था, लेकिन यह सजा के दौरान वर्ष 2012 में नेत्रपाल बीमार होने का नाटक करने लगा और इसे पुलिस द्वारा जेल से कानपुर के हैलट अस्पताल में भर्ती करने के लिए ले जाया गया, फर्रुखाबाद जिला जेल से कानपुर के हैलट अस्पताल लेजाते समय इसने अपना शातिर दिमाग का इस्तेमाल करते हुए इसकी निगरानी कर रहे पुलिसकर्मियों को जहरखुरानी का शिकार बना दिया और मथुरा टू छपरा एक्सप्रेस ट्रेन से फरार हो गया, पिछले 10 साल से पुलिस को उसकी तलाश थी और इस पर 50000 रुपये का इनाम घोषित किया गया था। 

    अनुज कुमार ( मृतक राजनरायन का भतीजा )

    जिसके चलते आगरा एसटीएफ को इस वांछित अपराधी की तलाश थी आगरा एसटीएफ और कासगंज जीआरपी की संयुक्त कार्रवाई में इसे नोएडा से पुलिस ने धर दबोचा, अब इसे गिरफ्तार करके कासगंज जीआरपी लाया गया यहां पर विधिक कार्रवाई के बाद इसे फिर से जेल भेज दिया गया, पुलिस के मुताबिक के हत्या के मामले में फरार चल रहा नेत्रपाल नोएडा में एक सिक्योरिटी एजेंसी में नौकरी कर रहा था। 

    अतुल यादव 

    Initiate News Agency (INA), कासगंज



    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.