Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। डी एस पी ने 112 नंबर गाड़ी की चेकिंग की

    पलवल। जिले में आज सरकार द्वारा हरियाणा प्रदेश में सुरु की गई एक कदम दूर यानी 112 नंबर गाड़ी जांच करने के लिए डी एस पी दिनेश कुमार यादव पहुंचे और 112 नंबर गाड़ियों की जांच की । उन्होंने कहा की प्रदेश ने इन गाड़ियों के सुरु होने लोगों को भारी सुविधा मिली रही है। उन्होंने  गाड़ियों पर तैनात सभी पुलिसकर्मियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि जो किट इस गाड़ी के अंदर है उसका इस्तेमाल करें । समय पर घटना पर पहुंचे अगर समय पर लोगों तक नहीं  पहुंचता उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

    हरियाणा 112 नंबर की गाड़ीयों  के हरियाणा के इंचार्ज डीएसपी दिनेश कुमार यादव ने जानकारी देते बताया की  आज उन्होंने पलवल जिले का दौरा किया है और जो पलवल जिले में  112 नंबर की गाड़ियां हैं उनकी चेकिंग की गई है। उन्होंने बताया कि जो गाड़ियों पर पुलिसकर्मी तैनात हैं उन सभी को निर्देश दिए गए हैं कि जो गाड़ी के अंदर किट है उसका इस्तेमाल करें और जिनको किट के बारे में जानकारी नहीं है उनको किट के बारे में जानकारी दी गई हैं की  किस समय इस किट का प्रयोग किया जाना है। 

    डीएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि हरियाणा प्रदेश की सरकार ने हर थाने को 112 नंबर की दो गाड़ियां दी हैं और यह  गाड़ी 10 से 15 मिनट के बीच कॉल आने पर घटनास्थल पर पहुंचती है ताकि लोगों को समय पर पुलिस की सहायता मिल सके। इन गाड़ियों के शुरू होने से प्रदेश की जनता को काफी लाभ मिल रहा है क्योंकि कॉल आने के तुरंत बाद यह गाड़ी 10 से 15 मिनट के बीच में ही घटना तक पहुंचती है और लोगों को पुलिस की  सुविधा मिलती है । डीएसपी ने बताया कि जो पुलिसकर्मी इन गाड़ियों पर तैनात हैं उनको यह निर्देश भी दिए गए कि कॉल आने के तुरंत बाद 10 से 15 मिनट के बीच में अगर गाड़ी घटनास्थल पर समय पर नहीं पहुंचती है तो उस गाड़ी पर तैनात सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि वह पूरे हरियाणा प्रदेश की 112 नंबर की सभी गाड़ियों की समय-समय पर जांच करते हैं ताकि कोई लापरवाही नहीं करे। डीएसपी ने बताया कि वह आज पलवल जिले में पहुंचे हैं और पलवल जिले से उन गाड़ियों की जांच की शुरुआत की है ।

    उन्होंने बताया कि और भी गाड़ियां प्रदेश में आ रही हैं उन गाड़ियों से  लोगों को सुविधा मिलेगी। उन्होंने बताया कि इन गाड़ियों का ऑनलाइन सिस्टम चंडीगढ़ मुख्यालय से जुड़ा हुआ है और सभी कार्य गाड़ियों का ऑनलाइन है। उन्होंने कहा कि अगर एक थाने की गाड़ी किसी घटना स्थल पर है तो दूसरे थाने की गाड़ी भी मौके पर पहुंच सकती है उसके लिए कोई भी प्रतिबंध लागू नहीं है। 

    ऋषि भारद्वाज

    Initiate News Agency (INA), पलवल


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.