Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: सुरों की मलिका लता मंगेशकर के निधन से अपूरणीय क्षति: नवाज देवबंदी

    देवबंद: विश्व विख्यात शायर नवाज देवबंदी ने सुरों की मलिका भारत कोकिला लता मंगेशकर के निधन को अपूरणीय क्षति बताया और कहा कि इस कोहिनूर की आवाज हमेशा दुनिया के दिलों में बसी रहेगी और दुनिया को संगीत प्रेमियों को हमेशा सु रो की ताजगी का एहसास कराती रहेगी। 

    स्वर कोकिला लता मंगेश्कर के निधन पर विख्यात शायर डा. नवाज देवबंदी ने कहा कि वह गायकी का कोहेनूर थी और उनकी आवाज कभी खामौश नहीं होगी।  कहा कि उनका निधन फिल्मी दुनियां या गायकी का नहीं बल्कि मुल्क की धरोहर का नुकसान है।, क्योंकि वह देश की एक ऐसी अनमोल धरोहर थी जिनकी आवाज घर-घर में घर में अपना जादू बिखेरा करती थी। 

    डा. नवाज देवबंदी ने बताया कि उनकी लता मंगेश्कर से मुंबई के एक मुशायरें और उसके बाद उनके घर पर मुलाकात हुई थी। उन्होंने कहा कि लता मंगेश्कर ने जिस पाकिजगी के साथ जिंदगी अपनी गुजारी है वह जिंदगी कोई विरले ही गुजार सकते हैं। उन्होंने लता मंगेश्कर को भारत के माथे का ताज, इतिहास की धरोहर और करोड़ों लोगों के दिलोें की धड़कन बताया। 

    उन्होंने कहा कि लता दीदी ने जिस गाने को अपनी आवाज दी वह गाना आज उनके जाने के बाद भी सदियोें तक लोगों की जबान पर गुनगुनाया जाता रहेगा। उन्होंने लता मंगेश्कर को खिराज-ए-अकीदत पेश करते हुए कहा कि जिंदगी ऐसी जियो, दुश्मनों को रश्क हो। मौत हो ऐसी के दुनियां देर तक मातम करें।। डा. नवाज बताते हैं कि लता मंगेश्कर जैसा बड़ा फनकार अपनी व्यक्तिगत जिंदगी में इतना सादा हो सकता है देखकर हैरत होती थी। उन्होंने कहा कि कुदरत ने हर मुल्क को कुछ न कुछ तोहफे दिए हैं उनमे से भारत को एक तोहफा लता मंगेश्कर की आवाज का जादू है।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.