Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मिश्रिख\सीतापुर: जनपद के विभिन्न तहसील क्षेत्रों में छुट्टा जानवर बने किसानों के लिए परेशानी

    मिश्रिख\सीतापुर: किसान के खेतों में जाकर फसल को खाते जा रहे है वहीं वर्तमान में हो रही कड़ाके की ठंड के दौरान भी बेचारे किसान रात रात जाग कर खेतों की रखवाली करते हुये अपनी फसलो को बचाने के लिए मजबूर हो रहे हैं। इतना ही नही आवारा साड़ों के हमले मे कई किसानों की मौत भी हो चुकी है। 

    इस विषय मे लोगों का कहना है कि आवारा घूमने वाले गोवंशो में अधिकतर गाये पालतू है जिनका दूध दूह कर लोग उन्हे घरों से बाहर छोड़ देते है जो किसी के भी खेत में जा कर फसले नष्ट कर देती है। बताते चलें की विधानसभा चुनाव का आगाज होने के पहले शासन और जिला प्रशासन के निर्देश पर लगभग प्रत्येक ग्राम पंचायत में अस्थाई गौशालाओं का निर्माण विकासखंड कर्मियों की देखरेख में प्रधानों द्वारा बरसाती तानकर कराया गया था लेकिन इन अस्थाई गौशालाओं में रखे जाने वाले जानवरों के चारा पानी आदि की व्यवस्था किसी भी स्तर से अभी तक नहीं की गई है। इस तरह से निर्मित यह अस्थाई  गौशालाये  किसानों को ही मुंँह चिढ़ा रही हैं। और आवारा गोवंशो से परेशान हो रहे हैं जो किसानों के लिए मुशीबत बने हुए हैं।



    संदीप चौरसिया 

    Initiate News Agency(INA), मिश्रिख\सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.