Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल। मील बंद होने पर किसानों ने की नारेबाजी

    पलवल। शुगर मिल में आई तकनीकी खराबी के चलते मिल को बीती रात को बंद कर दिया गया। मिल के बंद होने से गुस्साए किसानों ने मिल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। गुस्साए किसानो ने मिल प्रशासन को यहां तक की चेतावनी दे डाली कि अगर ऐसे ही बार - बार मिल बंद होती रही। तो उन्हें मजबूर आंदोलन करना पड़ेगा। वही मौके पर पहुंचे गन्ना विकास अधिकारी बिजेन्दर सिंह ने किसानो को आश्वाशन दिया कि मिल को तकनीकी खराबी के चलते बंद करना पड़ा। जिसे ठीक करने के लिए कर्मचारी लगे हुए जल्द ही तकनीकी खराब ठीक करके मिल को सुचारु रूप से चला दिया जाएगा। जिसके बाद किसानो का गुस्सा शांत हुआ।  

    गुस्साए किसानो का कहना है कि कल दोपहर करीब 1 बजे से मिल खराब पड़ी है। जिसके चलते किसानो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जब वह इस बारे में मिल के अधिकारियो व कर्मचारी से बात करते है। तो उन्हें कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिलता है। जिसके चलते किसानों में मिल प्रशासन के प्रति ख़ासा रोष व्याप्त है। 24 घंटे बीत जाने के बाद भी अभी तक मिल को शुरू नहीं किया गया। पूरी रात किसानो को मिल में बितानी पड़ी। जिसके चलते किसानों में सरकार व मिल प्रशासन के प्रति ख़ासा रोष व्याप्त है। क्युकी पलवल की शुगर मिल आए दिन खराब हो रही है। किसानों का कहना है कि अगर ऐसे ही मिल बार - बार बंद होती रही तो उन्हें मजबूर आंदोलन करना पड़ेगा। 

    किसान

    वही इस बारे में शुगर मिल के गन्ना विकास अधिकारी बिजेंद्र सिंह का कहना है कि शुक्रवार की रात को 10 बजे मिल में तकनीकी खराबी आने के कारण मिल को बंद करना पड़ा था। खराबी को ठीक करने के लिए कर्मचारी लगे हुए जल्द ही मिल ठीक हो जाएगी। किसानों का अब तक 18 लाख 25 हजार क़्वींटल गन्ना की पिराई हो चुकी है और 40 लाख क़्वींटल गन्ना मिल में किसानो का पिराई करने का लक्ष्य है। 

    ऋषि भारद्वाज

    Initiate News Agency (INA), पलवल


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.