Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पीलीभीत: बसंत पंचमी पर होगा सरस्वती पूजन और उड़ेंगी आसमान में पतंगें, हर तरफ से एक ही आवाज आएगी वो काटा

    --कटी पतंग को बच्चों की टोली करेंगी लूटमार

    --आसमान से बातें करेंगे रणबीर, अजय, कैटरीना,और मोटू-पतलू की जोड़ी

    --मतदान है बहुत जरूरी स्लोगन वाली रंग बिरंगी पतंगें भी आसमान में उड़ेगी

    --पीलीभीत में बसंत पंचमी पर्व पर परंपरागत उड़ती है पतंगे


    पीलीभीत: उत्तर प्रदेश विधानसभा के चौथे चरण के चुनाव को लेकर जनपद में जहां  नेतागण अपनी अपनी पतंग उड़ा कर एक दूसरे की पतंग काटने का प्रयास कर रहे हैं वही वसंत पंचमी पर्व पर जनपद में पतंग उड़ाने की परंपरा प्राचीन काल से चली आ रही है इस बार भी वसंत पंचमी पर्व पर जनपद वासी आसमान में रंग बिरंगी पतंग उड़ा कर पर्व को धूमधाम से मनाएंगे तो  वही जनपद में होने वाले चौथे चरण के विधानसभा चुनाव में  ना जाने कौन-कौन से नेताओं की पतंगों की डोर काट देंगे इस बार जनपद में लाल ,नीली ,पीली, रंग बिरंगी पतंगे बड़ी जोर के साथ आसमान में हवा के रुख और बेरुखी उड़ने को बेताब है ना जाने किस किस नेताजी की हवा में उड़ती पतंग कट जाएं और डोर उनके हाथ में ही रह जायें इसका उन्हें आभास नहीं हो पा रहा है बस अपने होठों पर बनावटी मुस्कुराहट लाते हुए हाथ जोड़कर और पैर पकड़ कर अपनी-अपनी पतंगों की सलामती के लिए जनता जनार्दन से हर जतन कर अपील करते हुए अपनी अपनी पतंगों की सबसे लंबी , ऊंची और आसमानी उड़ान बता रहे हैं खैर यह तो वक्त बताएगा की जनता ने किसकी उसके चहते रंग की पतंग काट दी और किसे अपने घर की डोर और मांझे  का साथ देकर आसमान की उड़ान तक पहुंचा दिया। पर हम बात कर रहे हैं बसंत पंचमी के पर्व पर जनपद में पतंग उड़ाने की पारंपरिक परंपरा की, हमको क्या?  जनता का जो  मन  भाये  जिसकी चाहे उसकी पतंग काटे।

    पेच ,खींच, ढील ,कन्ने ,सद्दी ,मांझा आमतौर पर यह शब्द बड़े अजीब से लगते हैं पर पतंगबाजी का शौक रखने वाले इन  शब्दों से अनजान नहीं है बसंत पंचमी के पर्व के आते आते पतंगबाजी का शबाब अपने यौवन पर छा जाता है यहां बिना किसी रोक-टोक ना केवल बच्चे बूढ़े एवं घर की महिलाएं भी इन कागज के रंग बिरंगे पक्षियों को अपनी उंगलियों के इशारे पर नचा कर एक दूसरे से पेच लड़ाते हैं पांच फरवरी शनिवार को बसंत पंचमी का पर्व है बाजारों में इस पर्व की रौनक दिखाई दे रही है पतंग डोर की दुकानें सज चुकी हैं और खरीददारी शुरु हो गई है महिलाओं ने भी पतंगबाजी करने के लिए अपने चूल्हे चौकों को जल्दी निपटाने की योजना बनाई है कोविड को लेकर स्कूल भी बन्द है बच्चे भी  जमकर इस उत्सव को मनाएंगे इन सभी तैयारियों के साथ इस बार वो काटा वो मारा और , लूटों चरम सीमा पर होगा  चारों तरफ  छतों गलियों  चौबारों  और मैदानों में  पतंगबाज  अपनी पतंगों के साथ  होंगे  और उनकी निगाहें आसमान पर होगी पतंगबाजी के शौकीन पतंगबाजी के लिए तैयार हो गए हैं ।

    अलग-अलग शहरों में विभिन्न पर्वो पर पतंग उड़ाने की है परंपरा

    पतंग उड़ाने का शौक भी बड़ा अलबेला है लोग सुबह से लेकर शाम तक अपने इस अजीब शौक को पूरा करते हुए पतंग उड़ाने के पर्व पर नजर आते हैं हर कहीं हर अवसर पर अलग-अलग पर्व पर पतंग उड़ाने का चलन है मकर सक्रांति पर जहां जयपुर ,अहमदाबाद एवं मुंबई ,लखनऊ में दीपावली पर्व पर ,स्वतंत्रता दिवस के मौके पर दिल्ली में ,लोहड़ी के पर्व पर पंजाब में गंगा दशहरा के पर्व पर आगरा में अलीगढ़ में होली पर ठीक इसी तरह पीलीभीत क्षेत्र में बसंत पंचमी पर पतंग उड़ाने की परंपरा है जो आज भी अनवरत चल रही है।

    बसंत पंचमी पर हिंदू समुदाय के लोग मां सरस्वती की पूजा अवसर पर धूमधाम से की जाती है बसंत पंचमी के पर्व पर लोगों के द्वारा पीले कपड़े पहने जाने की परंपरा है मां सरस्वती की पूजा अर्चना के बाद शुरू होता है पतंगबाजी का शौक और फिर लड़ाते हैं लोग रंग बिरंगी पतंगों को आसमान की ऊंचाई में ऊंचा करके पेच इस मौके पर छोटे-छोटे बच्चे जवान और बूढ़े भी जम कर लेते हैं पतंगबाजी में हिस्सा फिर चारों तरफ आसमान में रंग बिरंगे पक्षियों की तरह यह पतंगे आसमान की ऊंचाई में उड़ती है और चारों तरफ एक ही आवाज सुनाई देती है वो काटा और पतंग काटने पर दौड़ पड़ती है छोटे बच्चों की पतंग लूट मार करने वाली टोली हवा में इस बार सदी के महानायक अमिताभ बच्चन, सोनाक्षी सिन्हा , बाहुबली,अक्षय कुमार , अजय देवगन,बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ  और मतदान हैं जरूरी संदेश जैसे वाली पतंगे आसमान में उड़ रही है

    जनपद में बंगाली बाहुल्य कॉलोनियों में धूमधाम से मनाया जाता है बसंती पंचमी पर्व

    जनपद में बड़े पैमाने पर बंगाली समुदाय के लोग रहते हैं इनकी कालोनियों में बसंत पंचमी पर्व के अवसर पर एक अलग ही छटा देखने को मिलती है कालोनियों के मंदिर में सभी लोग साथ एकत्र होकर पूजा अर्चना करते हैं

    पतंग उड़ाते  समय इन नियमों का भी रखें ध्यान

    बसंत पंचमी के अवसर पर पतंगबाजी के शौकीनों को खासतौर से इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए की हवा के खिलाफ पेच लड़ाने में हमेशा आपकी ही पतंग कटेगी अगर आप आखिर तक डोर खींच सकते हैं तो ही आप विरोधी की पतंग काट पाएंगे वरना हवा के रुख के खिलाफ पतंग ढीली पड़ जाएगी पीछे वाले पतंगबाज की पतंग हमेशा आप की पतंग से भारी होगी ऐसे में या तो पेच करने से बचें या एक बार में ही पतंग काट दो लंबे पेट लिए तो आप की पतंग कटनी तय है हवा का बहाव अचानक बंद हो जाए तो बड़ी हुई पतंग को समय रहते उतार लेना चाहिए वरना मांझा झोल खा जाएगा इससे पतंग लूटने का डर रहता है कटी हुई पतंग मुफ़्त काल की तरह होती है उसे कभी भी जाने मत दो कटी हुई पतंग का धागा सही पिरोया हुआ होता है तभी तो वह उड़कर कटती है दूसरी और कटी पतंग के साथ आए मांझे को भली-भांति चेक करने के बाद ही काम में लें अगर छत की दीवार छोटी है तो पतंग हमेशा छत के बीच में जाकर उड़ाएं और पेच लड़ाते समय ध्यान रखें थोड़ी सी लापरवाही दुर्घटना का सबब बन सकती है

    ना करें चाइनीज मांझे का प्रयोग पतंगबाज़ , परिंदों की जा सकती जान

    पतंगबाजी के शौकीन पतंग उड़ाते समय इस बात का विशेष  ध्यान रखें की वह चाइनीज मांझे का कदापि प्रयोग ना करें  क्योंकि यह परिंदों के लिए भी बहुत हानिकारक है इनसे परिंदों की जान जा सकती है आसमान में उड़ने वाले परिंदों की जान का भी पतंगबाजों  को  ख्याल रखना चाहिए।

    नेता जी भी उड़ा रहे हैं सियासत की पतंग

    उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की रणभेरी बज चुकी है जनपद में चौथे चरण में चुनाव संपन्न होंगे इसके लिए चुनावी समर के नेता जी भी डोर टू डोर सियासत की पतंग उड़ा रहे हैं और अपनी पतंग की सलामती के लिए काट छांट करने वाली जनता से हाथ जोड़कर पैर पकड़ कर अधरों पर मुस्कुराहट लाते हुए अपनी पतंग की उड़ान के लिए डोर टू डोर डोर और मांझा मांग रहे हैं पर चतुर चालाक जनता जनार्दन भी इस बार सियासत के पतंग बाज को अपने दांवों नहीं बता रही इधर बसंत पंचमी के पर्व पर पांच फरवरी शनिवार को जनपद में यह काटा वो काटा की आवाजें सुनाई देगी उधर 23 फरवरी को विधानसभा के चौथे चरण के चुनाव मे यहां की जनता सियासत के पतंग बाज नेता की पतंग काट दे यह तो राम ही जाने।

    कुंवर निर्भय सिंह 

    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.