Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बिहार\गया। पितृपक्ष मेला को देखते हुए जिला पदाधिकारी ने किया निर्माणाधीन रबर डैम एवं मनसरबा नाला का निरीक्षण ।

    बिहार\गया। जिला पदाधिकारी ने नगर आयुक्त, नगर निगम तथा जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया कि इस वर्ष पितृपक्ष मेला के पहले मनसरवा नाले के पानी को नदी में परवाह से रोकने हेतु, हर संभव कार्य करें। साथ ही उन्होंने कहा कि पितृपक्ष मेला के पहले रबर डैम के कार्यों को पूर्ण करें ताकि पितृपक्ष मेला के दौरान आने वाले श्रद्धालुओं/तीर्थ यात्रियों को देवघाट में पितृतर्पण हेतु पानी मिल सके। जिला पदाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी, सदर को निर्देश दिया कि मनसरवा नाले के ऊपर बने अस्थाई अतिक्रमण को अतिक्रमणवाद चलाकर अतिक्रमणमुक्त कराना सुनिश्चित करेंगे।

    निरीक्षण के दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं नगर आयुक्त द्वारा बताया गया कि मनसरवा नाले में वार्ड संख्या 44, 45, 46 तथा केंदुई बोधगया इत्यादि जगहों का पानी इसी नाले में गिरते हुए कंडी नवादा होते हुए प्रवाहित होता है। निरीक्षण के दौरान यह भी बताया गया कि श्मशान घाट, गजाधर घाट, देवघाट होते हुए यह कंडी नवादा की ओर नाला जाता है, जिसमें लगभग 12 बड़े नाले अलग-अलग स्थानों से आकर मनसरवा से जुड़ जाते हैं।

    जिला पदाधिकारी ने संबंधित अभियंताओं को निर्देश दिया कि मनसरवा नाले का पानी फल्गु नदी में प्रवेश न करें, इसके लिए संबंधित अभियंता आपस में बैठक कर विस्तार से कार्य योजना तैयार करते हुए अगले 4 दिन के अंदर उपलब्ध करावे। उन्होंने अभियंताओं को अपने स्तर से जांच करते हुए डिजाइन तैयार करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि मनसरवा नाले के पानी को प्रवाह हेतु पूर्व में बने नाले को प्रयोग में लिया जा सकता है या नहीं, इस पर भी विचार करें। उन्होंने कहा कि मनसरवा नाले के पानी से रबड़ डैम प्रोजेक्ट प्रभावित न हो, इसे ध्यान में रखते हुए कार्य योजना तैयार करें। 

    जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त, गया नगर निगम को बाईपास स्थित नारायणी पुल से पानी बहाव को और बेहतर तरीके से करने हेतु पूर्व से बड़े ह्यूम पाइप को लगवाने को कहा ताकि पानी का प्रॉपर तरीके से बहाव हो सके।

    अधिकारियों के साथ विचार विमर्श करते गया जिला अधिकारी

    ज़िला पदाधिकारी को स्थानीय जनप्रतिनिधि द्वारा बताया गया कि देवघाट पर लगे मोटर से काफी गंदा पानी निकल रहा है, प्यूरीफायर लगाने के उपरांत भी पानी साफ नहीं हो रहा है। जिला पदाधिकारी ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि बोरिंग के कुछ स्थान आगे बढ़कर एक नया बोरिंग कराते हुए पाइप लाइन बिछाने का कार्य करें ताकि पेयजल बाधित न हो। उन्होंने इस कार्य को त्वरित गति से करवाने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान देवघाट में बने शौचालयों के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिया कि देवघाट में बने सभी शौचालयों को नगर निगम को अविलंब हैंड ओवर करे तथा नगर निगम अपने स्तर से इसे सफाई एवं मेंटेनेंस का कार्य करें। साथ ही उन्होंने कहा कि विष्णुपद स्थित पूर्व में जितना भी बने शौचालय हैं, उन सभी की सूची तैयार कर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

    निरीक्षण में जिलाधिकारी के साथ नगर आयुक्त, नगर निगम कार्यपालक अभियंता, जल संसाधन विभाग, अनुमंडल पदाधिकारी, सदर, वरीय उप समाहर्ता मो० शाहबाज खान, अंचलाधिकारी, सदर, सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी शामिल थे।

    प्रमोद कुमार यादव

    Initiate News Agency (INA), बिहार  

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.