Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गोंडा। यूक्रेन में हो रहीं बमबारी में फंसा गोंडा का लाल।

    गोंडा। यूक्रेन और रूस के विवाद में भारत से एमबीबीएस की पढ़ाई करने गए कई छात्र फंसे हुए हैं। हालांकि भारत सरकार ने ऑपरेशन गंगा के तहत वहां से छात्रों को लाने का काम शुरू कर दिया है लेकिन अभी भी बड़ी संख्या में लोग अपने वतन लौटने की राह देख रहे हैं। इसमें गोंडा जिले के करनैलगंज क्षेत्र का छात्र सुयश गुप्ता भी यूक्रेन मे हो रही बमबारी के बीच यूक्रेन की राजधानी के कीव में फंसा हुआ है। जिसे लेकर उनके परिजन काफी आशंकित है। जब तक यह छात्र अपने घर नहीं पहुंचता है तब तक उनके परिजन काफी सहमे हुए हैं और भारत सरकार से उम्मीद लगाए हैं कि जल्दी ही उनका उनका बेटा वतन वापसी करेगा।

    परिजन 

    गौरतलब हो कि यूक्रेन और रूस में युद्ध छिड़ने के वहां के हालात ख़राब है। जो छात्र यूक्रेन में फंसे हुए हैं उनके परिजनों को उनकी सुरक्षा को लेकर चिंता बनी हुई है। गोंडा के करनैलगंज कस्बे का छात्र सुयश गुप्ता 4 साल से यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है और वह अंतिम वर्ष का छात्र है। लेकिन यूक्रेन में युद्ध के हालात होने के बाद अब उसे घर आने की चिंता है। जैसा कि घर वालों ने बताया की सुयश अपने साथियों के साथ बंकर में रात बिता रहा है और वहां से हंगरी जाने की तैयारी में है। लेकिन स्थिति खराब होने के कारण अभी वह यूक्रेन की राजधानी कीव में ही फंसा हुआ है। ऐसे में सुयश गुप्ता के परिजनों को डर सता रहा है की युद्ध की स्थिति में वो कैसे वहां से निकल पाएगा। इसे कहते हुए परिजन भावुक हो जाते हैं। छात्र सुयश गुप्ता की अपने परिजनों से वीडियो कॉल पर बात हुई तो उसने बताया एंबेसी से कांटेक्ट किया गया है लेकिन अभी कोई परिणाम नहीं निकला है। ऐसे में जब तक सुयश गुप्ता अपने घर नहीं पहुंच जाता है अब तक परिजनों में भारी आशंका बनी हुई है।

    विशाल सिंह

    Initiate News Agency (INA), गोंडा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.